Sunday , December 17 2017

लाल किले को भी ‘गद्दारों’ ने बनाया था, क्या मोदी वहां झंडा फहराना छोड़ देंगे?- ओवैसी

एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने भाजपा विधायक द्वारा दिए गया ताजमहल के बयान पर पलटवार करते हुए सवाल किया कि क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाल किले से तिरंगा फहराना बंद कर देंगे, क्योंकि वह भी गद्दारों ने बनाया था।

ख़बर रहे रविवार को भाजपा विधायक और फायरब्रांड नेता संगीत सोम ने एक विवादित बयान देते हुए कहा कि ताजमहल भारतीय संस्कृति पर कलंक है और गद्दारों के बनाए ताजमहल को इतिहास में जगह नहीं मिलनी चाहिए।

इस बयान का जवाब देते हुए ओवैसी ने ट्वीट कर कहा, ‘लाल किले को भी ‘गद्दारों’ ने बनाया था। तो क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाल किले पर तिरंगा फहराना छोड़ देंगे? क्या मोदी और योगी घरेलू और विदेशी पर्यटकों से कहेंगे कि वे ताजमहल को देखने ना आएं?

एक और ट्वीट में ओवैसी ने कहा कि यहां तक कि दिल्ली में हैदराबाद हाउस को ‘गद्दारों’ ने ही बनाया

बता दें कि उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले की सरधना सीट से बीजेपी विधायक संगीत सोम ने ताजमहल को ‘भारतीय संस्कृति पर कलंक’ बताते हुए कहा गद्दारों के बनाए ताजमहल को इतिहास में जगह नहीं मिलनी चाहिए।

रविवार(15 अक्टूबर) को मेरठ के गांव सिसौली में एक मूर्ति के अनावरण समारोह में बीजेपी विधायक ने कहा कि ताजमहल को गद्दारों ने बनवाया था, उसका नाम भारत के इतिहास में नहीं होना चाहिए।

न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, संगीत सोम ने कहा कि बहुत-से लोग इस बात से चिंतित हैं कि ताजमहल को यूपी टूरिज़्म बुकलेट में से ऐतिहासिक स्थानों की सूची से हटा दिया गया।

उन्होंने कहा कि किस इतिहास की बात कर रहे हैं हम? जिस शख्स ने ताजमहल बनवाया था, उसने अपने पिता को कैद कर लिया था। बीजेपी विधायक ने आगे कहा कि वह (शाहजहां) हिन्दुओं का कत्लेआम करना चाहता था। अगर यही इतिहास है, तो यह बहुत दुःखद है, और हम इतिहास बदल डालेंगे। मैं आपको गारंटी देता हूँ।

संगीत सोम ने मुगल बादशाहों बाबर, औरंगज़ेब और अकबर को ‘गद्दार’ कहते हुए दावा किया कि उनके नाम इतिहास से मिटा दिए जाएंगे।

गौरतलब है कि ताजमहल को उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने अपने आधिकारिक पर्यटन स्थल की सूची से बाहर किए जाने को लेकर काफी हंगामा हुआ था। हालांकि विवाद बढ़ने के बाद योगी सरकार की ओर से सफाई दी गई थी कि ताजमहल देश की धरोहर है। इसके साथ ही ताजमहल के विकास पर काफी पैसा खर्च किया जा रहा है।

TOPPOPULARRECENT