Thursday , June 21 2018

लाशों के साथ फ़ख़्रिया तसावीर पर अमेरीकी फ़ौजीयों की मुज़म्मत

लास एंजालिस टाईम्स ने मुश्तबा अफ़्ग़ान शिद्दत पसंदों की लाशों के साथ फ़ख़्रिया अंदाज़ में तसावीर बनाने वाले अमरीकी फ़ौजीयों की नई तसावीर शाय की हैं। अख़बार के मुताबिक़ इन 18 में से कुछ तसावीर 2010-ए-में बनाई गईं। इन तसावीर की इशाअत से क़ब्ल

लास एंजालिस टाईम्स ने मुश्तबा अफ़्ग़ान शिद्दत पसंदों की लाशों के साथ फ़ख़्रिया अंदाज़ में तसावीर बनाने वाले अमरीकी फ़ौजीयों की नई तसावीर शाय की हैं। अख़बार के मुताबिक़ इन 18 में से कुछ तसावीर 2010-ए-में बनाई गईं। इन तसावीर की इशाअत से क़ब्ल ही अफ़्ग़ानिस्तान में अमेरीकी और नाटो अफ़्वाज के सरबराह जनरल जान एलन ने उनकी मुज़म्मत करते हुए कहा है कि इन तसावीर में पेश किया जाने वाला इन्फ़िरादी अमल किसी तौर भी बैन-उल-अक़वामी अमन फ़ौज और अमेरीकी फ़ौज की पालिसीयों की नुमाइंदगी नहीं करता।

वज़ीर-ए-दिफ़ा लीवन पनेटा के तर्जुमान के मुताबिक़ पनेटा ने इन तसावीर की मुज़म्मत की है और इस बात का यक़ीन दिलाया है कि ज़िम्मेदार अफ़राद के ख़िलाफ़ कार्रवाई की जाएगी। मुबय्यना तौर पर 2010 में खींची जाने वाली इन तसावीर के बारे में अख़बार का कहना है कि उसे ऐसी जुमला 18 तसावीर मिली हैं जिन में से सिर्फ दो चहारशंबा को अख़बार की वेबसाइट पर जारी की गईं।

अमेरीका और नाटो हुक्काम ने पहले ही इन तसावीर की सख़्त मुज़म्मत की है जिन में अफ़्ग़ानिस्तान में तैनात बाअज़ अमेरीकी फ़ौजीयों को खुदकुश हमलावरों की बाक़ियात के साथ दिखाया गया है। अख़बार ने दावा किया है कि उसे ये तसावीर एक अमेरीकी फ़ौजी ने नाम ज़ाहिर ना करने की शर्त पर इरसाल की हैं।

फ़ौजी का कहना है कि तसावीर जारी करने का मक़सद अमेरीकी फ़ौजीयों में नज़म‍ ओ‍ ज़ब्त और क़ाइदाना किरदार के फ़ुक़दान की जानिब तवज्जा मर्कूज़ कराना है क्यों कि वो समझता है कि इस तर्ज़-ए-अमल के नतीजे में फ़ौजीयों की जानें ख़तरे से दो-चार हो गई हैं

TOPPOPULARRECENT