Monday , December 11 2017

लिफ़्ट में फंस कर मुस्लिम तालिबा के फ़ौत होने पर इज़हारे दुख

मेदक 20 नवंबर: दिलसुखनगर के इलाके में वाक़्ये ख़ानगी स्कूल श्री चैतन्य स्कूल में 17 नवंबर को लिफ़्ट में फंस कर फ़ौत होने वाली मासूम तालिबा ज़ैनब फ़ातिमा जाफ़री के ग़मज़दा वालिदैन को हुकूमत और इंतेज़ामीया स्कूल की तरफ से माली तआवुन किया जाये। टी आर एस क़ाइद मीर असग़र अली और कांग्रेस क़ाइद मीर बरकत अली एहसान ने अपने एक मुशतर्का बयान में मासूम तालिबा की मौत पर गहरे दुख का इज़हार करते हुए इन ख़्यालात का इतहार किया।

असग़र और बरकत अली हस्सान ने स्कूल के प्रिंसिपल की गिरफ़्तारी को हक़बजानिब क़रार देते हुए रियासती हुकूमत और महिकमा तालीमात के रियासती ओहदेदारान से अपील करते हुए कहा कि फ़ील-फ़ौर दिलसुखनगर इलाक़ा के मंडल एजूकेशनल ऑफीसर, तालीमी डीवीझ़न के डिप्टी डी ई ओ के अलावा ज़िला मुहतमिम तालीमात को भी ख़िदमात से मुअत्तली पर-ज़ोर दिया।

उन्होंने कहा कि हुकूमत को चाहीए कि अपार्टमेंट्स, फ़्लाईटस और हैदराबाद की गली कूचों में मौजूद तमाम स्कूलों का ख़ुसूसी सर्वे करें और एसे स्कूलों को महर बंद करते हुए इंतेज़ामीया के ख़िलाफ़ कार्यवाहीयां करें। इन क़ाइदीन ने कहा के मुताल्लिक़ा एम-ए ओ , डिप्टी डी ई ओ और डी ई ओ के ख़िलाफ़ भी कार्यवाहीयां करने का मुतालिबा किया। उन्होंने सवाल किया कि किस तरह अपार्टमेंट्स में स्कूल चलाने की इजाज़तनामा जारी किया गया?।

TOPPOPULARRECENT