Tuesday , January 16 2018

लिफ्ट में फंसे अमित शाह, लालू ने ली चुटकी “इतना मोटा आदमी घुसा ही क्‍यों”?

पटना : बीजेपी सदर अमित शाह जुमेरात को पटना में एक लिफ्ट में फंस गए थे। इस पर आरजेडी सरबराह लालू प्रसाद यादव ने चुटकी ली है। लालू ने जुमा को कहा, ”अमित शाह जैसे मोटे आदमी को पटना की लिफ्ट में नहीं घुसना चाहिए था। बिहार में लिफ्ट छोटी होती है। लिफ्ट इतने मोटे लोगों को ढोने लायक नहीं है।” बता दें कि लालू ने इससे पहले, जुमेरात को पीएम नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधा था और उनकी मिमिक्री भी की।
तहक़ीक़ात में पता चला है कि लिफ्ट ज़्यादा वजन की वजह से रुक गई थी। लिफ्ट की कैपेसिटी 340 किलोग्राम है। अमित शाह के साथ पांच और लोग लिफ्ट में सवार हो गए थे।

शाह जुमेरात को पटना के स्टेट गेस्ट हाउस में ठहरे थे। रात में वह ग्राउंड फ्लोर पर आने के लिए लिफ्ट में चढ़े थे। लिफ्ट तयशुदा जगह से छह इंच पहले बंद हो गई। ग्राउंड फ्लोर से पहले ही रुकने की वजह से लिफ्ट के दरवाजे ओपन नहीं हुए। शाह के साथ मरकज़ी वज़ीर धर्मेंद्र प्रधान, भूपेंद्र यादव और सौदान सिंह भी थे। सभी चालीस मिनट तक लिफ्ट में फंसे रहे थे।
भाजपा लीडरों ने फ़ैरन लिफ्ट खोलने के लिए मेकैनिक की तलाश की, लेकिन रात में कोई मदद नहीं मिली। भाजपा लीडर संजय मयूख ने कहा कि उन्होंने और सिक्युरिटी में लगे जवानों ने मिलकर छेनी-हथौड़ी से लिफ्ट तोड़ी और शाह व बाकी लोगों को बाहर निकाला।

भाजपा लीडर और राज्यसभा एमपी सीपी ठाकुर ने इस वाकिया के पीछे साजिश की इमकान जताई है। वहीं, पार्टी के रियासती सदर मंगल पांडेय ने कहा कि इस वाकिया की जांच होनी चाहिए। अगर कुछ देर में उन्हें नहीं निकाला जाता तो लिफ्ट में फंसे होने की वजह से किसी की जान भी जा सकती
थी।

TOPPOPULARRECENT