लीबिया के होटल पर IS का हमला, 8 की मौत

लीबिया के होटल पर IS का हमला, 8 की मौत
बंदूकबर्दारों ने मंगल के रोज़ लीबिया के आलीशान कोरिंथिया होटल में धावा बोलकर आठ लोगों का क़त्ल कर दिया। मारे गए लोगों में पांच गैर मुल्क के शहरी हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस्लामिक स्टेट ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। दहशतगर्

बंदूकबर्दारों ने मंगल के रोज़ लीबिया के आलीशान कोरिंथिया होटल में धावा बोलकर आठ लोगों का क़त्ल कर दिया। मारे गए लोगों में पांच गैर मुल्क के शहरी हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस्लामिक स्टेट ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। दहशतगर्दों ने कुछ लोगों को यरगमाल भी बनाया है। यरगमाल बनाए गए लोगों में ज्यादातर यूरोप और टर्की के शहरी हैं।

इस होटल में गैर मुल्क के शहरी ज़्यादा तादाद में ठहरते हैं। बंधूकबर्दार होटल में बुलेटप्रूफ जैकेट पहनकर दाखिल हुए। होटल पर एक तरह से दहशतगर्दों का कब्जा हो चुका है। त्रिपोली की एक सेक्युरिटी एजेंसी के तरजुमान एसाम अल-नास ने कहा कि कोरिंथिया होटल में मंगलवार के रोज़ दोपहर बाद हालात खौफनाक रहा।

होटल के एक मुलाज़िम ने बताया कि बुलेटप्रूफ जैकेट पहने पांच नकाबपोश होटल में घुस आए। होटल के गेट पर खडे सेकुरिटी अहलकारों ने उन्हें रोकने की कोशिश की । हमलावरों ने गोलीबारी की। मुलाज़िम ने बताया कि जब उसने बाहर देखने के लिए अपना दरवाजा खोला तो बंदूकबर्दारों ने गोली चला दी। तब वह होटल के दिगर मुलाज़्मीन और गैर मुल्क के मेहमानो के साथ होटल के पिछले दरवाजे से पार्किंग में पहुंच गया।

मुलाज़िम ने नाम नहीं जाहिर होने की शर्त पर कहा कि पार्किंग में एक कार में बम धमाका हुआ। इससे पहले लॉबी में जवानों ने आकर हमलावरों पर गोली चलाईं। दो सेक्युरिटी अहलकार की मौके पर ही मौत हो गई। उसने बताया कि होटल में इतालवी, ब्रिटिश और तुर्क मेहमान थे लेकिन हमले के वक्त होटल काफी हद तक खाली था।

यरगामल को कहां ले जाया गया, इस बारे में अभी उसे मालूमात नहीं है। मुलाज़िम ने कहा कि मिलिशिया की हिमायत वाले वज़ीर ए आज़म उमर अल-हस्सी आम तौर पर होटल में ठहरते हैं लेकिन आज वहां नहीं थे। होटल में पहले 2013 में हमला हुआ था जब वहां एक साबिक वज़ीर ए आज़म को अगवा कर लिया गया था।

Top Stories