लैंड पूलिंग पॉलिसी पर किसानों की समस्या का जवाब नहीं दे पाए DDA के अधिकारी

लैंड पूलिंग पॉलिसी पर किसानों की समस्या का जवाब नहीं दे पाए DDA के अधिकारी

लैंड पूलिंग पॉलिसी के तहत जमीन का रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए DDA के अधिकारीयो द्वारा दिल्ली देहात के ऊजवा गाँव में जनसंपर्क मीटिंग आयोजित की गई। DDA के अधिकारी आज तक किसानो की समस्याओं से संबंधित कोई ठोस जवाब नहीं दे पाए हैं।

ऊजवा गाँव से किसान कैप्टन कंवर लाल डागर ने कहा कि लगभग 50 से 70 सालों से किसी भी गाँव का लाल डोरा नहीं बढ़ाया गया है। मलिकपुर से किसान जगराम डागर ने कहा कि ज्यादातर किसानों के पास ना हि पाँच एकड़ जमीन है और ना ही बाहरी विकास शुल्क देने के लिए लगभग 10 करोड़ रूपये है। पपरावट गाँव से किसान ओमदत्त यादव और राजबीर यादव ने कहा कि F A R को 400% कर दिया जाए। ऐसे अनेक किसानों कि शिकायत मिल जाएगी।

अधिकतर किसानों का कहना है कि लैंड पॉलिसी में बदलाव की जरुरत है। स्वराज इंडिया शुरआत से ही इस पॉलिसी में बदलाव की मांग कर रहा है। दिल्ली देहात मोर्चा के उपाध्यक्ष सतेंद्र हेडली के अनुसार स्मार्ट सिटी के साथ स्मार्ट गाँव भी बनाने चाहिए |

स्वराज इंडिया पार्टी के दिल्ली देहात मोर्चा अध्यक्ष राजीव यादव के अनुसार इस पॉलिसी में दादा लाई जमीन वाले मूल निवासी किसान के लिए बाहरी विकास शुल्क और पाँच एकड़ कि बाध्यता को समाप्त करने की जरूरत है।

Top Stories