Monday , December 11 2017

लैटिन बोलने वालों में तेज़ी से फैल रहा है इस्लाम

हम ये सोचते हैं कि आजकल के दौर में इस्लाम के ख़िलाफ़ जिस तरह की मुहीम चल रही है उसको देख कर इस्लाम का सही रूप लोगों तक मुश्किल से ही पहुँचता होगा लेकिन ऐसा नहीं है अल्लाह ने हर इंसान को दिमाग़ दिया है और शायद यही वजह है कि प्रेस और मीडिया की ख़राब रिपोर्टिंग के बावजूद भी इस्लाम फैल रहा है.बात अगर लैटिन अमरीकी देशों की करें तो वहाँ इस्लाम बहुत तेज़ी से फैल रहा है और लैटिन भाषा बोलने वालों में मुसलमान बनने की चाहत नज़र आती है.

Facebook पर हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करें

जानकारों का मानना है कि इस्लाम को इस तरह से बदनाम करने की कोशिश का नतीजा ये है कि लोग अब इस्लाम के बारे में पढना चाहते हैं और जब वो पढ़ते हैं तो वो इस्लाम के क़रीब आते हैं जिसका नतीजा ये है कि लोग मुसलमान हो रहे हैं. सिर्फ़ इतना ही नहीं जहां एक तरफ़ हम मीडिया से ये बात सुनते हैं कि इस्लाम में औरतों के हुकूक पर बात कम की गयी है और मुसलमान औरतों की स्थिति को लेकर मीडिया ने भयंकर एक तरफ़ा रिपोर्टिंग की है ऐसे में ख़बर ये है कि ज़्यादातर मुसलमान होने वाली औरतें ही हैं. औरतों को जहां दूसरे धर्मों में बहुत कम अधिकार हैं वहीँ इस्लाम औरतों को बराबरी का अधिकार देता है. संयुक्त राज्य अमरीका में कुल ३३ लाख मुस्लिम हैं जबकि 5 करोड़ 50 लाख लैटिन हैं, इसमें से 2 लाख मुसलमान हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक़ अमरीका में धर्म परिवर्तन के मामलों में इस्लाम में दाख़िल होने वाले 90% लैटिन ही हैं और उनमें से अधिकतर महिलायें हैं. जानकारों का मानना है कि इस्लाम बहुत जल्द संयुक्त राज्य अमरीका का दूसरा सबसे बड़ा धर्म हो जाएगा.

TOPPOPULARRECENT