Saturday , December 16 2017

लोक पाल बिल वक़्त का तक़ाज़ा: हज़ारे

साबिक़ सदर ए पी जे अब्दुल कलाम की जानिब से लोक पाल बिल की अफादियत पर शक ज़ाहिर करने के पस-ए-मंज़र में अन्ना हज़ारे ने कहा कि ये बिल वक़्त का तक़ाज़ा है, वो कल शिर्डी से 35 रोज़ा रियासत गैर दौरा पर रवाना होते वक़्त जल्सा-ए-आम से ख़िताब कर रहे थे

साबिक़ सदर ए पी जे अब्दुल कलाम की जानिब से लोक पाल बिल की अफादियत पर शक ज़ाहिर करने के पस-ए-मंज़र में अन्ना हज़ारे ने कहा कि ये बिल वक़्त का तक़ाज़ा है, वो कल शिर्डी से 35 रोज़ा रियासत गैर दौरा पर रवाना होते वक़्त जल्सा-ए-आम से ख़िताब कर रहे थे। उन्होंने कलाम के इस नज़रिया की अहमियत कम करते हुए कि बच्चे और नौजवान मुल्क से करप्शन का ख़ातमा कर सकते हैं, तब्सिरा किया।

TOPPOPULARRECENT