Monday , January 22 2018

लोक पाल मसला पर चौकस होने की ज़रूरत: बेदी

नई दिल्ली २६ नवंबर ( पी टी आई) लोक पाल के लिए दस्तूरी मौक़िफ़ देने की सिफ़ारिशात पर पारलीमानी स्टैंडिंग कमेटी की जानिब से वसीअ तर इत्तिफ़ाक़ राय पैदा करने के साथ ही अन्ना हज़ारे टीम की रुकन किरण बेदी ने आज हैरत का इज़हार किया कि आया यू पी

नई दिल्ली २६ नवंबर ( पी टी आई) लोक पाल के लिए दस्तूरी मौक़िफ़ देने की सिफ़ारिशात पर पारलीमानी स्टैंडिंग कमेटी की जानिब से वसीअ तर इत्तिफ़ाक़ राय पैदा करने के साथ ही अन्ना हज़ारे टीम की रुकन किरण बेदी ने आज हैरत का इज़हार किया कि आया यू पी ए अपोज़ीशन के दबाव में आकर बिल मंज़ूर नहीं करेगी? उन्हों ने अपने टयूटर पर लिखा है कि लोक पाल एक दस्तूरी इदारा होना चाहियॆ।

यू पी ए को अप्पोज़ीशन की ताईद की ज़रूरत होगी। अगर ये ताईद हासिल नहीं हुई तो ये लोक पाल बिल जूं का तूं रह जाएगा। इसी लिए हुकूमत को चौकस होजाना चाआई। वो पर्सनल ऐंड ला जस्टिस पर पारलीमानी स्टैंडिंग कमेटी की तजावीज़ पर रद्द-ए-अमल ज़ाहिर कररही थीं जिस ने लोक पाल बल की तन्क़ीह की है और लोक पाल बल पर ही वसीअ तर इत्तिफ़ाक़ राय पैदा किया है।

इस में लोक पाल को दस्तूरी मौक़िफ़ देने का मसला भी शामिल किया गया है। ताहम इस इत्तिफ़ाक़ राय में वज़ीर-ए-आज़म को लोक पाल के तहत लाने के मसला पर ग़ौर नहीं किया गया।

TOPPOPULARRECENT