लोक सभा में तृणमूल-बी जे पी अरकान एक दूसरे से उलझ पड़े

लोक सभा में तृणमूल-बी जे पी अरकान एक दूसरे से उलझ पड़े
तृणमूल कांग्रेस और बरसर-ए-इक्तदार बी जे पी के अरकान के माबैन कल‌ लोक सभा में टकराव‌ की कैफ़ियत पैदा होगई थी जिस के नतीजा में ऐवान में लंच के बाद के सेशन में कोई काम काज नहीं होसका।

तृणमूल कांग्रेस और बरसर-ए-इक्तदार बी जे पी के अरकान के माबैन कल‌ लोक सभा में टकराव‌ की कैफ़ियत पैदा होगई थी जिस के नतीजा में ऐवान में लंच के बाद के सेशन में कोई काम काज नहीं होसका।

ये अरकान एक दूसरे को ज़द-ओ-कोब करने के करीब पहूंच गए थे। ऐवान में गड़बड़ उस वक़्त शुरू हुई जब रेल बजट की पेशकशी के बाद 2.10 बजे कार्रवाई का दुबारा आग़ाज़ हुआ और तृणमूल कांग्रेस के अरकान ने हाल ही में मालना रेल कर एवं में इज़ाफ़ा से दस्तबरदारी का मांग‌ कर रहे थे।

उन्हों ने हुकूमत पर इल्ज़ाम आइद किया कि इस ने रेल बजट में मग़रिबी बंगाल के लिए कुछ नहीं किया है जहां तृणमूल कांग्रेस की हुकूमत है। इस हंगामा आराई के नतीजा में ऐवान की कार्रवाई को पहले 3 बजे तक रद‌ करदिया गया था। ऐवान की कार्रवाई का दुबारा जैसे ही आग़ाज़ हुआ तृणमूल कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के एहितजाजी अरकान ऐवान के वस्त में पहूंच गए और उन्होंने बजट की मुख़ालिफ़त की।

तृणमूल कांग्रेस के अरकान ने वज़ीरे आज़म नरेंद्र मोदी और वज़ीर रेलवे डी वे सदानंद गौड़ा और रेल बजट के ख़िलाफ़ नारे लगाए। बी जे पी अरकान ने भी जवाबी नारा बाज़ी की और अब की बार। मोदी सरकार के नारे लगाने लगे। नारा बाज़ी और जवाबी नारा बाज़ी के दौरान बी जे पी के दो अरकान ऐवान के वस्त में पहूंच गए और उन्होंने तृणमूल कांग्रेस अरकान पर इल्ज़ाम आइद किया कि वो ऐवान की कार्रवाई में रुकावट पैदा कर रहे हैं।

दोनों जमातों के अरकान के माबैन शदीद लफ़्ज़ी झड़प शुरू होगई और वो एक दूसरे से झगडा होने के करीब पहूंच गए थे। एक दो मार्शलों को दोनों जमातों के अरकान को एक दूसरे से अलाहदा करते हुए भी देखा गया। कुर्सी-ए-सदारत पर फ़ाइज़ हुक्म देव नारायण यादव ने ऐवान की कार्रवाई को 4.30 बजे तक मुल्तवी करदिया।

सूरत-ए-हाल को बिगड़ता हुआ देखते हुए मिनिस्टर आफ़ स्टेट पार्लीमानी उमूर मिस्टर प्रकाश जाव‌देकर और उन के सीनिय‌र एम वैंकया नायडू के इलावा एक और वज़ीर कलराज मिश्रा भी अरकान को समझाने की कोशिश कर रहे थे। कुछ कांग्रेसी अरकान को भी ऐवान के वस्त में पहूँचते हुए देखा गया ताकि किसी इमकानी नाख़ुशगवार वाक़िया को रोका जा सके।

Top Stories