लड़की के जिन्सी इस्तिहसाल का मुल्ज़िम गिरफ़्तार

लड़की के जिन्सी इस्तिहसाल का मुल्ज़िम गिरफ़्तार

हैदराबाद 22 मार्च: बहादुरपूरा पुलिस ने लड़की को ब्लैकमेल करते हुए उस का जिन्सी इस्तिहसाल करने और एबॉर्शन करवाने पर मजबूर करने वाले एक नौजवान को गिरफ़्तार कर लिया।

23 साला ज़ीशान अहमद साकिन हुदा कॉलोनी अतापूर राजिंदरनगर ने 20 साला लड़की को अपनी हवस का शिकार बनाते हुए उसे पिछ्लेतीन साल से जिन्सी इस्तिहसाल कर रहा था। उन्होंने बताया कि मुतास्सिरा लड़की आबिड्स में वाक़्ये एक कॉलेज में साल 2012 में बीएससी की तालीम हासिल कर रही थी जहां पर उस के साथी तालिब-इल्म ज़ीशान अहमद और सय्यद आदिल से दोस्ती हुई।

ज़ीशान अहमद मुतास्सिरा लड़की की छोटी बहन का भी दोस्त था और इस दोस्ती का फ़ायदा उठाते हुए उसने लड़की को ये ज़ाहिर किया कि अगर वो उस का कहना ना माने तो वो उस की बहन के काबिल एतराज़ वीडीयोज़ सोशल नेटवर्किंग वेब साईट पर आम कर देगा।

ब्लैकमेलिंग का शिकार लड़की को ज़ीशान अहमद ने धमकाकर साल 2012 में अपने मकान वाक़्ये किशनबाग़ बहादुरपूरा ले जाया करता था जहां पर उसने 6 माह तक उस का जिन्सी इस्तिहसाल करता रहा और इस बात का इलम होने पर इसी कॉलेज का एक और स्टूडेंट् सय्यद आदिल ने भी मुतास्सिरा लड़की को ब्लैकमेल करते हुए ज़ीशान अहमद और इस के बीच ताल्लुक़ात के बारे में इस के अफ़रादे ख़ानदान को बताने की धमकी दी। सय्यद आदिल ने भी लड़की को ब्लैकमेल करते हुए एक किराये का मकान वाक़्ये बहादुरपूरा में तीन माह तक जिन्सी इस्तिहसाल किया जिसके नतीजे में वो हामिला हो गई। आदिल ने लड़की को धमकाकर उसे जबरन तीगलकोंटा में वाक़्ये ज़ीनत हॉस्पिटल लेजाकर वहां पर एबॉर्शन करवाया।

मुतास्सिरा लड़की ने और कॉलेज में बीटेक की तालीम के लिए दाख़िला लिया जहां पर ज़ीशान अहमद ने उसे दुबारा ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया और वो फेसबुक के ज़रीये उसे धमकाते हुए वार्निंग दिया। इतना ही नहीं ज़ीशान अहमद ने मुतास्सिरा लड़की पर सय्यद आदिल के ख़िलाफ़ एबॉर्शन करवाने पर पुलिस में शिकायत के लिए दबाओ डाल रहा था।

ज़ीशान अहमद के मुसलसिल ब्लैकमेलिंग और एबॉर्शन से तंग आकर लड़की ने अपने वालिदैन की मदद से आबिड्स पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवाई जहां पर एक मुक़द्दमा दर्ज करते हुए बहादुरपुरा पुलिस को इस केस की फाईल हवाले कर दी। पुलिस ने बताया कि साल 2012 से ज़ीशान अहमद और सय्यद आदिल उस लड़की का जिन्सी इस्तिहसाल कर रहे थे और इस से रक़ूमात भी हासिल की थी। पुलिस ने गिरफ़्तार ज़ीशान अहमद को जेल मुंतक़िल कर दिया जबकि सय्यद आदिल और ज़ीनत हॉस्पिटल के डॉक्टर्स जिन्हों ने गै़रक़ानूनी तौर पर एबॉर्शन किया था, की पुलिस को तलाश है

Top Stories