Tuesday , September 25 2018

वक़्फ़ जायदादों पर क़बज़े और हुकूमत ख़ामोश तमाशाई

हैदराबाद 18 मार्च:वक़्फ़ जायदादों की तबाही नाजायज़ क़बज़े और फ़रोख़्तगी के मसले पर कौंसिल में डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर मुहम्मद महमूद अली और क़ाइद अप्पोज़ीशन मुहम्मद अली शब्बीर के बीच बेहस-ओ-तकरार हो गई। हुकूमत के जवाब से अदम इतमीनान का इज़हार करते हुए कांग्रेस ने वाक आउट किया।

डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर ने कांग्रेस के दौरे हुकूमत में वक़्फ़ जायदादों को नुक़्सान पहूंचने का दावा किया। क़ाइद अप्पोज़ीशन ने अपने घर के क़रीब वाक़्ये चियूंटी शाह मस्जिद की वक़्फ़ अराज़ी पर पट्टाजात जारी करने तक तमाशा देखने का इल्ज़ाम आइद किया। तेलंगाना क़ानूनसाज़ कौंसिल में वकफ़ा-ए-सवालात के दौरान कांग्रेस के रुकन क़ानूनसाज़ कौंसिल मुहम्मद फ़ारूक़ हुसैन ने कहा कि वक़्फ़ जायदादों पर बरसों से नाजायज़ क़बज़े हैं। वक़्फ़ जायदादों पर सरकारी ऑफ़िस क़ायम हैं और उनकी तरफ से वक़्फ़ बोर्ड को किराया भी अदा नहीं किया जा रहा है। साबिक़ एवान कमेटीयों की तरफ से पेश करदा सिफ़ारिशात पर आज तक अमल आवरी नहीं हुई है।

झूट का सहारा लेते हुए हुकूमत एवान को गुमराह कर रही है।टीआरएस ने अपने चुनाव मंशूर में वक़्फ़ जायदादों का तहफ़्फ़ुज़ करने और नाजायज़ क़ब्ज़ों का शिकार वक़्फ़ आराज़ीयात पर से क़बज़ा बर्ख़ास्त करते हुए वक़्फ़ बोर्ड के हवाले करने का वादा किया था, जिस पर आज तक अमल आवरी नहीं हुई है। इस का जवाब देते हुए डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर मुहम्मद महमूद अली ने कहा कि वक़्फ़ जायदाद का तहफ़्फ़ुज़ करने के मुआमले में टीआरएस हुकूमत अह्द की पाबंद है।

वक़्फ़ बोर्ड में अमले की कमी है। चीफ़ मिनिस्टर केसीआर ने वक़्फ़ बोर्ड में 80 ता 100 मुलाज़मीन के तक़र्रुत के लिए आर्डर जारी कर दिए हैं। वक़्फ़ बोर्ड के एम्प्लाइज की तरफ से काम में कोताही का एतराफ़ करते हुए डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर ने कहा कि चीफ़ मिनिस्टर अक़लियती बहबूद मसाइल पर ख़ुसूसी दिलचस्पी ले रहे हैं। किरायों में इज़ाफ़ा करने के लिए किरायेदारों से मुशावरत की जा रही है। साबिक़ एवान की कमेटीयों ने 84 सिफ़ारिशात की हैं जिस पर अमल आवरी के लिए एक नया क़ानून बनाने की ज़रूरत है।

TOPPOPULARRECENT