Saturday , December 16 2017

वक़्फ़ बोर्ड के चार डिप्टी सेक्रेट्रीज की रीपोस्टिंग, एक ओहदेदार मुअत्तल

वक़्फ़ बोर्ड में बेक़ाईदगियों के ख़ातमा और इस्लाहात के सिलसिला में हुकूमत ने बाअज़ अहम फैसले किए हैं। शहर की एक कीमती ओक़ाफ़ी अराज़ी के तहफ़्फ़ुज़ में नाकामी और वक़्फ़ बोर्ड के बजाय क़ाबिजीन के हक़ में कार्रवाई पर असिस्टेंट सेक्रेट्री वक़्फ़ बोर्ड को मुअत्तल कर दिया गया।

बोर्ड के ओहदेदार मजाज़ ने चार डिप्टी सेक्रेटरीज की तनज़्ज़ुली करते हुए उन्हें असिस्टेंट सेक्रेट्री के ओहदा पर वापिस कर दिया है। चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफीसर वक़्फ़ बोर्ड ने मुअज़्ज़म जाहि मार्किट में वाक़े अहम ओक़ाफ़ी अराज़ी तवेला सफ़र ख़ान की तरक़्क़ी के सिलसिला में मुआहिदा में असिस्टेंट सेक्रेट्री शेख सलीम बाशाह के मुबैयना तौर पर मुलव्विस होने के लिए उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई करते हुए मुअत्तल कर दिया है।

बताया जाता है कि शेख सलीम बाशाह ने वक़्फ़ बोर्ड की इत्तिला के बगैर डेवलपमेंट से मुताल्लिक़ मुआहिदा को ना सिर्फ क़तईयत दी बल्कि उस के रजिस्ट्रेशन में मदद की।

TOPPOPULARRECENT