Tuesday , December 12 2017

वज़ारत फ़ीनानस के सैक्रेटरी की जय पी सी में तलबी

वज़ीर-ए-आज़म से मुलाक़ात के बाद ब्यान देने परनब मुकर्जी का फ़ैसला

वज़ीर-ए-आज़म से मुलाक़ात के बाद ब्यान देने परनब मुकर्जी का फ़ैसला
नई दिल्ली / कोलकता । 27 सितंबर (पी टी आई) 2G अस्क़ाम का जायज़ा लेने वाली जवाइंट पारलीमानी कमेटी (जे पी सी) ने आज हक़ायक़ की पर्दापोशी करने वज़ीरफ़ीनानस की कोशिशों का सख़्त नोट लेते हुए मोतमिद फ़ीनानस आर ऐस गुजराल को वज़ाहत केलिए तलब किया है। 2G मसला पर मुतनाज़ा दाख़िली नोट पेश ना करने पर उन्हें तलब किया जा रहा है। जैसा कि जवाइंट पारलीमानी कमेटी बराए टेलीकॉम पालिसीयों का आज सुबह इजलास मुनाक़िद हुआ, जिस में कई अरकान ने वज़ीरफ़ीनानस के नोट को दाख़िल नहीं किए जाने पर सवाल उठाया। इस नोट में बताया गया हीका पी चिदम़्बरम जिस वक़्त 2008-ए-में वज़ीरफ़ीनानस थे अगर वो चाहते तो 2G अस्क़ाम को रोक सकते थे। अगर उन्हों ने ज़ोर दिया होता तो असपकटरम की बोली मंसूख़ की जा सकती थी। सी पी ऐम के सीताराम यचोरी ने कहा जाता हीका वज़ारत फ़ीनानस की जानिब से नोट पेश ना किए जाने पर उसे संजीदा मुआमला क़रार दिया है। उन्हों ने कहा कि वो मुराआत शिकनी का मुआमला दर्ज करते हुए इस ताल्लुक़ से सख़्त इक़दामात किए जाएं। बी जे पी के ऐस ऐस अहलुवालिया ने भी मुतालिबा किया कि ये इजलास उस वक़्त तक मुल्तवी किया जाय ताकि वक़्त कि फ़ीनानस सैक्रेटरी कमेटी के सामने हाज़िर होकर अपना मौक़िफ़ वाज़िह करें। सी पी आई के गुरूदास दास गुप्ता ने भी इसी तरह का ख़्याल ज़ाहिर किया। इस मसला पर 3 घंटे के इजलास के बाद जे पी सी ने नर पंद्रह मिश्रा को तलब किया जो फ़बरोरी 2004-ए-और मार्च 2005-ए-के दरमयान टेलीकॉम सैक्रेटरी थे। वज़ीरफ़ीनानस परनब मुकर्जी ने आज कहा कि 2G असपकटरम तख़सीस के मसला पर वज़ारत फ़ीनानस के जारी करदा नोट पर अगर ज़रूरी हुआ तो वो कल वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह से मुलाक़ात के बाद ही ब्यान देंगे। परनब मुकर्जी ने यहां अपनी रिहायश गाह पर अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि मेरा इद्दिआ ये हीका मैंने न्यूयार्क और दिल्ली में जो कुछ कहा है इस पर अगर ज़रूरी हुआ तो आर टी आई दरख़ास्त के ज़रीया हासिल करदा वज़ारत फ़ीनानस के नोट पर इज़हार-ए-ख़्याल करूंगा।
समझौता ऐक्सप्रैस धमाका अदालत का फ़ैसला महफ़ूज़
पंचकुला । 27 । सितंबर (पी टी आई) एक ख़ुसूसी अदालत ने समझौता ऐक्सप्रैस धमाका में जमा शूदा फ़ार नसक़ सबूतों और नमूनों का मालिगांव अजमेर शरीफ़ और हैदराबाद में हुए धमाकों से तक़ाबुल करने के लिए हैदराबाद मुंतक़िल करने से मुताल्लिक़ क़ौमी तहक़ीक़ाती एजैंसी (एन आई ए) की दरख़ास्त पर अपने अहकाम को महफ़ूज़ करदिया । इन धमाकों में दाएं बाज़ू के इंतिहापसंद कारकुनों के रोल का शुबा किया गया है

TOPPOPULARRECENT