Thursday , December 14 2017

वज़ीर-ए-आज़म अपनी ज़िम्मेदारी से फ़रार नहीं होसकते

मुंबई 23 अक्टूबर : ( पी टी आई ) : बी जे पी के सदर नीतिन गदकरी ने आज कहा कि 2G असपकटरम अस्क़ाम के लिए वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह सिंह अपनी ज़िम्मेदारी से राह फ़रार इख़तियार नहीं कर सकते और इस अस्क़ाम के लिए सिर्फ यू पी ए के हलीफ़ों को ही मौरिद इल्

मुंबई 23 अक्टूबर : ( पी टी आई ) : बी जे पी के सदर नीतिन गदकरी ने आज कहा कि 2G असपकटरम अस्क़ाम के लिए वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह सिंह अपनी ज़िम्मेदारी से राह फ़रार इख़तियार नहीं कर सकते और इस अस्क़ाम के लिए सिर्फ यू पी ए के हलीफ़ों को ही मौरिद इल्ज़ाम नहीं टहराया जाना चाहीए ।

मिस्टर गदकरी ने कहा कि सिर्फ हुक्मराँ जमात के हलीफ़ों पर ही इल्ज़ाम आइद करना दरुस्त नहीं होगा । वज़ीर-ए-आज़म को भी कई सवालात का जवाब देना बाक़ी है । सिर्फ साबिक़ वज़ीर टेलीकॉम ए राजा को मौरिद इल्ज़ाम टहराना ठीक नहीं होगा । ( 2G असपकटरम अस्क़ाम में ) वज़ीर-ए-आज़म अपनी ज़िम्मेदारी से बच नहीं सकते ।

ए राजा , कुन मोज़ही और कई कॉरपोरेट शख़्सियात के बिशमोल 16 मुल्ज़िमीन के ख़िलाफ़ 2G असपकटरम अस्क़ाम में मुक़द्दमा चलाने उन के ख़िलाफ़ धोका दही , रिश्वत सतानी , मुजरिमाना एतिमाद शिकनी वग़ैरा के तहत इल्ज़ामात वज़ा किए जाने के बाद मिस्टर गदकरी ने ये तबसरा किया ।

लेकिन कर्नाटक के साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर बी ऐस यदि यूरप्पा से मुताल्लिक़ एक सवाल पर गदकरी ने सवाल किया कि यदि यूरप्पा ने किया रिश्वत सतानी की है ।

उन्हों ने किस से रक़म ली है । वो क़ानूनी लड़ाई लड़ रहे हैं । कांग्रेस की रिश्वत सतानी से यदि यूरप्पा का तक़ाबुल नहीं किया जा सकता । फ़िर्कावाराना तशद्दुद बल के बारे में उन्हों ने कहा कि ना सिर्फ बी जे पी बल्कि एन डी ए की तमाम हलीफ़ जमातें उस की मुख़ालिफ़त कररही हैं क्यों कि ये क़ानूनी वोट बैंकसियासत पर मबनी है ।

TOPPOPULARRECENT