Monday , December 18 2017

वज़ीर-ए-आज़म का ब्यान तलंगाना अवाम की तौहीन के मतराद

हैदराबाद । 21 अक्टूबर ( सियासत न्यूज़) वज़ीर-ए-आज़म डाक्टर मनमोहन सिंह का तलंगाना से मुताल्लिक़ ब्यान तलंगाना अवाम की तौहीन के मुतरादिफ़ है । साबिक़ रियास्ती वज़ीर-ए-क़ानून मिस्टर पी चन्द्र शेखर ने आज अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते

हैदराबाद । 21 अक्टूबर ( सियासत न्यूज़) वज़ीर-ए-आज़म डाक्टर मनमोहन सिंह का तलंगाना से मुताल्लिक़ ब्यान तलंगाना अवाम की तौहीन के मुतरादिफ़ है । साबिक़ रियास्ती वज़ीर-ए-क़ानून मिस्टर पी चन्द्र शेखर ने आज अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए वज़ीर-ए-आज़म की जानिब से तलंगाना मसला पर दिए गए ब्यान को सख़्त तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए कहा कि वज़ीर-ए-आज़म एक ज़िम्मेदार ओहदा पर फ़ाइज़ा होते हुए ग़ैर ज़िम्मेदारी का ब्यान जारी किए हैं । उन्हों ने वज़ीर-ए-आज़म मिस्टर मनमोहन सिंह से इस्तिफ़सार किया कि वो तलंगाना मसला से मुताल्लिक़ वाज़िह तौर पर कहीं कि आख़िर कांग्रेस पार्टी का तलंगाना मसला पर नज़रिया किया है । उन्हों ने वज़ीर-ए-आज़म की जानिब से तलंगाना मसला को संगीन और वक़्त तलब क़रार देने की मुज़म्मत करते हुए कहा कि कांग्रेस गुज़शता 7बरसों से इक़तिदार में रहते हुए एक मसला का हल नहीं कृपाई तो क्या आइन्दा यू पी ए से मसला की हल की तवक़्क़ो रखी जानी चाहीए ? । मिस्टर पी चन्द्र शेखर ने बताया कि कांग्रेस ने अपने इंतिख़ाबी मंशूर मैं अलहदा रियासत तलंगाना की तशकील के मसला को शामिल किया था लेकिन आज ख़ुद वज़ीर-ए-आज़म ये कह रहे हैं कि इस मसला पर तमाम सयासी जमातों की राय हासिल की जाएगी । मिस्टर पी चन्द्र शेखर ने इस्तिफ़सार किया कि आया कांग्रेस ने तलंगाना की तशकील के मसला को मंशूर में शामिल करने से क़बल दीगर सयासी जमातों से मुशावरत की थी ? । उन्हों ने वज़ीर-ए-आज़म से मुतालिबा किया कि वो यू पी ए क़ाइदीन बिलख़सूस कांग्रेस के ज़िम्मा दारान को मश्वरा दें कि तहरीक को सुबू ताज करने केलिए साज़िशें तैय्यार करने के बजाय तलंगाना अवाम की ख़ाहिश की तकमील केलिए रास्ता तलाश करें । मिस्टर पी चन्द्र शेखर ने बताया कि यू पी ए हुकूमत अलहदा रियासत तलंगाना की तशकील के मुतालिबा को क़बूल करने और अपने वाअदे को पूरा करने के बजाय तहरीक तलंगाना को कुचलने की साज़िश कररही है । उन्हों ने इल्ज़ाम आइद किया कि तहरीक तलंगाना को सुबू ताज करने की कोशिशों में मर्कज़ी हुकूमत के ज़िम्मा दारान के इलावा चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी और सदर पी सी सी मिस्टर बोतसा सत्य ना रावना शामिल हैं । मिस्टर पी चन्द्र शेखर ने बताया कि रियासत की मौजूदा सूरत-ए-हाल केलिए मर्कज़ी हुकूमत और कांग्रेस पार्टी ज़िम्मेदार ही। उन्हों ने वज़ीर-ए-आज़म की जानिब से तलंगाना मसला को वक़्त तलब और मुश्किल क़रार दिए जाने पर अफ़सोस का इज़हार करते हुए कहा कि जब मलिक का ज़िम्मेदार वज़ीर-ए-आज़म ही इस तरह के ब्यानात देने लगे तो मुलक किस के भरोसे पर चल रहा है इस का बख़ूबी अंदाज़ा लगाया जा सकता है । मिस्टर पी चन्द्र शेखर ने यू पी ए हुक्मराँ तबक़ा को मश्वरा दिया कि वो अगर मसला हल करने के मौक़िफ़ में नहीं है तो अवाम पर ये बात वाज़िह करदें कि तलंगाना मसला का हल यू पी ए हुकूमत दरयाफ़त नहीं करसकती । उन्हों ने तमाम तबक़ात के लिए काबिल-ए-क़बूल हल की बात करने पर वज़ीर-ए-आज़म को तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए कहा कि वज़ीर-ए-आज़म के पास ऐसा कौनसा नुस्ख़ा है जिस से तमाम तबक़ात ख़ुश होंगे वो अवाम पर वाज़िह करें । चूँकि तलंगाना के 4करोड़ अवाम सिर्फ और सिर्फ हुसूल तलंगाना पर ही ख़ुशी का इज़हार करने का फ़ैसला करचुके हैं । इलावा अज़ीं वो हुसूल तलंगाना केलिए हर तरह की क़ुर्बानी पेश करने भी तैय्यार हैं ।

TOPPOPULARRECENT