Saturday , June 23 2018

वज़ीर-ए-आज़म के दौरा अरूणाचल प्रदेश पर चीन का मौक़िफ़

इटानगर सियासी पार्टीयों के एतराज़ का निशाना

इटानगर

सियासी पार्टीयों के एतराज़ का निशाना

अरूणाचल प्रदेश की सियासी पार्टीयों ने वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी के 20 फ़रव‌री को रियासत के दौरे पर चीन के एतराज़ पर शदीद तन्क़ीद की है। वज़ीर-ए-आज़म रियासत की 29 वीं यौमे तासीस तक़रीब में शिरकत केलिए आए थे। चीन ने वज़ीर-ए-आज़म के दौरे की इस लिए मुख़ालिफ़त की है कि वो इस इलाक़े को मुतनाज़ा समझते है।

अरूणाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदर पी रचो ने आज कहा कि चीन भूल गया है कि अरूणाचल प्रदेश हिन्दुस्तान का अटूट हिस्सा है । ये चीन की आदत बन गई है कि जब भी सदर या वज़ीर-ए-आज़म इस रियासत का दौरा करते हैं वो एतराज़ करता है। रियासती बी जे पी की शाख़ ने भी चीन की वज़ीर-ए-आज़म के दौरे पर एतराज़ की मज़म्मत करते हुए कहा कि किसी भी हालत में पड़ोसी मुल्क किसी मर्कज़ी क़ाइद के दौरा रियासत पर एतराज़ नहीं करसकता।

अरूणाचल सियोल सोसाइटी ने भी चीन पर तन्क़ीद की है क्योंकि इस ने वज़ीर-ए-आज़म के रियासती दौरे पर एतराज़ किया है। नायब वज़ीर-ए‍-ख़ारिजा चीन ने हिन्दुस्तान के सफ़ीर बराए चीन अशोक के कान्ता को मतलूब कर के मोदी के दौरा अरूणाचल प्रदेश के ख़िलाफ़ एहतेजाज किया था।

TOPPOPULARRECENT