Sunday , December 17 2017

वजीरे आला के तौर में नीतीश पहली पसंद

पटना : लालू के साथ इत्तिहाद करने को लेकर भले ही बिहार की आवाम के नजर में नीतीश कुमार मुजरिम हो सकते हैं, लेकिन इसके बाद भी उनकी नजर में नीतीश कुमार वजीरे आला के तौर पर उनकी पहली पसंद हैं। एबीपी न्‍यूज और नीलसन रिपोर्ट के मुताबिक तकरीबन 51 फीसद बिहार की आवाम नीतीश कुमार को फिर से बिहार के वजीरे आल के तौर में देखना चाहती है। वहीं महज़ 43 फीसद अवाम की पसंद हैं सुशील मोदी।

दूसरी तरफ लोकसभा इंतिखाब 2014 में भाजपा को अपने दम पर बहुत दिलाने वाले करिश्माई वजीरे आजम नरेंद्र मोदी की मकबूलियत में नीतीश कुमार ने सेंध लगा दी है। भले ही नरेंद्र मोदी मुल्क के मक़बूल लीडर हो सकते हैं, लेकिन बिहार की अवाम की नजर में नीतीश कुमार मोदी से ज़्यादा मक़बूल लीडर हैं। एबीपी न्‍यूज और नीलसन के मुताबिक तकरीबन 52 फीसद बिहार की आवाम नीतीश कुमार को मक़बूल लीडर मानती है, वहीं 47 फीसद अवाम की नजर में नरेंद्र मोदी सबसे मक़बूल लीडर हैं।

TOPPOPULARRECENT