Tuesday , December 12 2017

वजीरे तालीम नीरा यादव डॉ कलाम के बारे में बोलते ही रो पड़ीं

रांची : वजीरे तालीम नीरा यादव मंगल को प्रोजेक्ट भवन में फफक कर रो पड़ी। साबिक़ सदर ए ज़महुरिया एपीजी अब्दुल कलाम के इंतेकाल पर नामानिगारों से बात करते हुए कहा कि कलाम का इंतेकाल मुल्क के लिए बहुत बड़ी नुक्सान है। यकीन ही नहीं हो रहा है कि वह अब नहीं रहे। इतना कहते ही वह फफक कर रो पड़ी।

आपको बता दें कि झारखंड में साबिक़ सदर ए जमहुरिया डॉ एपीजे अब्दुल कलाम को ज़िंदा रहते ही खिराजे अक़ीदत दे दी गयी थी। रियासत के हजारीबाग के एक सरस्वती शिशु विद्या मंदिर में डॉ कलाम की तसवीर पर गुलपोशी की गयी थी। जबकि भारतीय समाज में यह रिवायत है कि बनावटी फूल सिर्फ मरहूम लोगों की मुजशमा या तसवीर को ही पहनायी या चढाई जाती है।

यह वाकया उस दौरान का है जब गुजिशता दिनों स्कूल के स्मार्ट क्लास का इफ़्तिताह करने झारखंड की वजीरे तालीम डॉ नीरा यादव पहुंची थीं। बाद में वज़ीर डॉ नीरा यादव ने इस सिलसिले में मीडिया को अपना वज़ाहत दिया था।

TOPPOPULARRECENT