Saturday , November 18 2017
Home / Hyderabad News / वयालार रवी पर कांग्रेस में ग्रुप बंदीयां कराने का इल्ज़ाम

वयालार रवी पर कांग्रेस में ग्रुप बंदीयां कराने का इल्ज़ाम

तेलंगाना के सीनीयर रुक्न असेंबली-ओ-साबिक़ रियास्ती वज़ीर मिस्टर दामोधर रेड्डी ने चिरंजीवी के नाशतादान पर कांग्रेस के मुबस्सिर मिस्टर वीलार रवी की शिरकत पर सख़्त एतराज़ करते हुए उन पर पार्टी में ग्रुप बंदीयों को फ़रोग़ देने का

तेलंगाना के सीनीयर रुक्न असेंबली-ओ-साबिक़ रियास्ती वज़ीर मिस्टर दामोधर रेड्डी ने चिरंजीवी के नाशतादान पर कांग्रेस के मुबस्सिर मिस्टर वीलार रवी की शिरकत पर सख़्त एतराज़ करते हुए उन पर पार्टी में ग्रुप बंदीयों को फ़रोग़ देने का इल्ज़ाम आइद किया और तेलंगाना मसला पर कोई समझौता ना करने का ऐलान किया।

मिस्टर दामोधर रेड्डी ने कहा कि तेलंगाना तहरीक गुज़श्ता 50 साल से जारी है, आज भी तलबा-ओ-नौजवान ख़ुदकुशीयाँ करते हुए अलैहदा तेलंगाना रियासत की तशकील का मुतालिबा कर रहे हैं। अब तक हाईकमान तेलंगाना और दीगर मसाइल का जायज़ा लेने के लिए कई मुबस्सिरीन हैदराबाद रवाना कर चुकी है।

अगर ये मुबस्सिरीन तेलंगाना क़ाइदीन और पार्टी कारकुनों से वसूल होने वाली याददाश्तों को सही तरीक़े से पार्टी हाईकमान तक पहुंचाते तो अब तक अलैहदा रियासत क़ायम हो चुकी होती। अवाम को शक है कि मुबस्सिरीन अपनी ज़िम्मेदारी बख़ूबी नहीं निभा रहे हैं, बल्कि उन्हें वसूल होने वाली याददाश्तों को कचरे दान की नज़र कर रहे हैं।

उन्हों ने पार्टी उमूर का जायज़ा लेने के लिए हैदराबाद पहुंचने वाले वयालार रवी की चिरंजीवी की नाशता की दावत में शिरकत पर एतराज़ करते हुए कहा कि इस दावत में सब को बुलाया जाना चाहीए था, सिर्फ़ चंद क़ाइदीन को ही मदऊ करने से अवाम के शकूक में इज़ाफ़ा हो रहा है। ऐसा लगता है कि वयालार रवी पार्टी को मुस्तहकम करने नहीं आए, बल्कि पार्टी में ग्रुपस को फ़रोग़ देने के लिए आए हैं।

कांग्रेस के सीनीयर रुक्न असेंबली ने पार्टी हाईकमान से इस्तिफ़सार किया कि वो मज़ीद कितने मुबस्सिरीन हैदराबाद रवाना करेगी?। हर मुबस्सिर की आमद पर तेलंगाना की नुमाइंदगी करने वाले कांग्रेस क़ाइदीन और तेलंगाना के अवाम को तेलंगाना पर फ़ैसला की उम्मीद होती है, लेकिन हर बार मायूसी हो रही है।

उन्हों ने कहा कि हम तेलंगाना पर कोई समझौता करने वाले नहीं हैं, अलैहदा रियासत की तशकील का मुतालिबा करते हुए कसीर तादाद में नौजवान और तलबा ख़ुदकुशी करचुके हैं और ये सिलसिला हनूज़(अभि भी) जारी है। अगर तेलंगाना पर जल्द अज़ जल्द फ़ैसला नहीं किया गया तो कांग्रेस को नुक़्सान होगा।

TOPPOPULARRECENT