Sunday , December 17 2017

वर्ंगल ज़िमनी चुनाव, के सी आर और टी आर एस केलिए सियासी इमतेहान

हैदराबाद 09 नवंबर: हलक़ा लोक सभा वर्ंगल (महफ़ूज़ बराए पसमांदा तबक़ात) के लिए 21 नवंबर को मुनाक़िद शुदणी ज़िमनी चुनाव , टी आर एस और चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ की मक़बूलियत के सवाल पर पिछ्ले साल के असेंबली चुनाव के बाद पहला अहम सियासी इमतेहान साबित होंगे।

हमा रुकनी ज़िमनी चुनाव में टी आर एस के उम्मीदवार पासव नूरी दयाकर को कांग्रेस के उम्मीदवार और साबिक़ मर्कज़ी वज़ीर सर्वे सतनाराय‌ना, बी जे पी। तेलुगू देशम इत्तेहाद के उम्मीदवार और कई बरसों से अमरीका में मुक़ीम डाक्टर और पेशा तिब्ब के माहिर पी देइया के अलावा वाई एस आर कांग्रेस के नला सूर्य प्रकाश और बाएं बाज़ू के ताईद याफताह गाली विनोद कुमार से मुक़ाबिला है।

इस नशिस्त पर अपना क़बज़ा बरक़रार रखने के लिए तेलंगाना राष़्ट्रा समीती (टी आर एस) ने अपने कई सरकरदा वुज़रा को पारलीमानी हलक़ा के तहत मुख़्तलिफ़ असेंबली हलक़ों का इंचार्ज मुक़र्रर किया है। ख़ुद डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर कडीम श्री हरी जिनके इस पारलीमानी हलक़ा से इस्तीफ़े के सबब ये चुनाव नागुज़ीर हुए हैं, टी आर एस उम्मीदवार की कामयाबी के लिए एड़ी चोटी का ज़ोर लगा रहे हैं।

टी आर एस के सदर और चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ भी मुहिम में हिस्सा लेंगे। कांग्रेस को अपने उम्मीदवार सिरिसिल्ला राजिया के घर पेश आए आतिशज़दगी के इस वाक़िये से ज़बरदस्त धक्का लगा जिसमें पर्चा नामज़दगी के आख़िरी दिन उनकी बहू और तीन पोतरे ख़ाकसतर हो गए थे।

21 नवंबर को राय दही और 24 नवंबर को वोटों की गिनती होगी। कांग्रेस के रुकन क़ानूनसाज़ कौंसिल पी सुधाकर रेड्डी ने कहा कि टी आर एस हुकूमत मुसीबतज़दा किसानों तक रसाई में नाकाम हो गई है और किसान यक़ीनन हुक्मराँ जमात के ख़िलाफ़ वोट देंगे।

TOPPOPULARRECENT