Saturday , July 21 2018

वसीम रिज़वी का नया पैंतरा, कहा- ‘मुस्लिम शासकों ने देश को लूटा, मंदिरों को तोड़कर मस्जिद बनवाई’

उत्तर प्रदेश शिया सेन्ट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के अध्यक्ष से मंदिरों को तोड़कर बनाई गई सभी मस्जिदों को हिन्दुओं को वापस करने की सलाह दी है।

पर्सनल लॉ बोर्ड के अध्यक्ष को लिखे पत्र में रिजवी ने कहा है कि आप भी अवगत हैं कि मुगल बादशाहों ने और उनसे पहले हिन्दुस्तान आए सुल्तानों ने देश को लूटा। यहां हुकूमत की। तमाम मन्दिरों को तोड़ा। कुछ मंदिरों को तोड़कर वहां मस्जिदें बनवा दी।

रिजवी ने पत्र में लिखा है कि इस्लाम के अनुसार किसी भी गसबी (कब्जाई) जगह पर जबरन इबादतगाह बनाना शरीयत के अनुसार जायज नहीं है।

पत्र में उन्होंने राममंदिर अयोध्या समेत 9 देवालयों का नाम देते हुए उन्हें तोड़कर मस्जिद बनाने का दावा किया है। उन्होंने लिखा है कि इनमें केशवदेव मंदिर मथुरा, अटालादेव मंदिर जौनपुर, काशी विश्वनाथ मंदिर वाराणसी, रुद्रामहालया मंदिर बटना गुजरात, भद्राकली मंदिर अहमदाबाद (गुजरात), अदीना मस्जिद पंडुआ बंगाल, विजया मंदिर विदिशा मध्यप्रदेश और मस्जिद कुवतुल इस्लाम कुतुबमीनार दिल्ली शामिल हैं।

रिजवी ने पत्र में लिखा है कि इसके अतिरिक्त और भी कुछ ऐसी मस्जिदें हैं जो मंदिरों को तोड़कर बनवाई गई हैं।

अध्यक्ष से रिजवी ने अपील की है कि आप इस्लाम के उद्देश्यों से अवगत हैं, इसलिए मंदिरों को तोड़कर बनाई गई मस्जिदों को हिन्दू समाज को सौंपने का फैसला लें जिससे असली इस्लाम का उद्देश्य दुनिया के सामने आ सके।

TOPPOPULARRECENT