Sunday , April 22 2018

विजय पुराणिक ने शुरू किया संगठन महामंत्री के रूप में कामकाज, सुनील आंबेकर को मिलेगी नई जिम्मेदारी

सांकेतिक तस्वीर
संघ से भाजपा में कामकाज के लिए आए दो वरिष्ठ प्रचारकों में से एक विजय पुराणिक ने औपचारिक ऐलान से पहले ही महाराष्ट्र भाजपा के संगठन महामंत्री के रूप में कामकाज शुरू कर दिया है। रविंद्र भूसारी को सूबे के संगठन महामंत्री के पद से हटाए जाने के बाद राज्य भाजपा में यह पद खाली था। संघ की ओर से भाजपा में कामकाज देखने के लिए भेजे गए दूसरे प्रचारक सुनील आंबेकर को पार्टी में समन्वय के साथ सह संगठन महामंत्री का पद दिया जा सकता है।

बीते सप्ताह नागपुर में संपन्न हुई अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक के बाद संघ ने दोनों ही वरिष्ठ प्रचारकों को भाजपा में भेजने का निर्णय लिया है। लोकसभा चुनाव से ठीक एक वर्ष पहले संघ के जरिए अपने दो वरिष्ठ प्रचारकों को भाजपा में भेजने को पार्टी पर संघ की पकड़ मजबूत बनाने की कवायद के रूप में देखा जा रहा है। दोनों ही वरिष्ठ प्रचारक मूल रूप से महाराष्ट्र के रहने वाले हैं। और संघ के शीर्ष नेतृत्व के बीच इनकी छवि बेहत्तर बताई जाती है। यही वजह है कि इस बात को और बल मिल रहा है कि संघ अपनी पकड़ भाजपा पर और मजबूत करना चाहता है।

जानिये कौन हैं विजय पुराणिक

पुणे के रहने वाले विजय पुराणिक भाजपा में आने से पहले पश्चिम भारत के क्षेत्रीय प्रचारक का दायित्व निर्वाह कर रहे थे। संघ के पश्चिम भारत क्षेत्र में गुजरात, महाराष्ट्र और गोवा आता है। इन तीन राज्यों का क्षेत्रीय प्रचारक होने के नाते पुराणिक की अहमियत संघ में भी बड़ी थी। अब उन्हें भाजपा में भेजा गया है। बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र भाजपा के संगठन महामंत्री के पद पर उनका जल्द ऐलान हो जाएगा। वैसे उन्होंने अपरोक्ष रूप से सूबे के भाजपा संगठन में संगठन महामंत्री का कार्य करना शुरू कर दिया है। वे रविंद्र भूसारी का स्थान लेंगे। रविंद्र भूसारी भी महाराष्ट्र के ही रहने वाले थे। चंद वर्ष पहले ही संघ ने उन्हें भाजपा में कामकाज संभालने के लिए भेजा था। लेकिन उनके खिलाफ कुछ बड़ी शिकायत मिलने की वजह से उन्हें पिछले माह ही पदमुक्त कर दिया गया था। उनकी जगह अब विजय पुराणिक महाराष्ट्र भाजपा के नए संगठन महामंत्री बनेंगे।

जानिये सुनील आंबेकर को

संघ ने पुराणिक के अलावा अपने दूसरे प्रमुख एवं अहम प्रचारक सुनील आंबेकर को भाजपा संगठन में कामकाज के लिए भेजा है। भाजपा में आने से पहले सुनील आंबेकर अखिल भारतीय विधार्थी परिषद के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री थे। विधार्थी परिषद से जुड़े होने की वजह से उनकी छात्र और युवाओं में बेहद मजबूत पकड़ है। उन्हें कुशल रणनीतिकार के साथ शिक्षा क्षेत्र का प्रमुख जानकार माना-जाता है। अपरोक्ष रूप से केंद्र का मानव संसाधन विकास मंत्रालय संभालने वाले लोगों में संघ के जिन प्रचारकों के नाम की चर्चा होती है। उसमें आंबेकर का नाम भी अहम है।  ये भी महाराष्ट्र मे पुणे इलाके के रहने वाले हैं। भाजपा में इन्हें समन्वय का जिम्मा दिए जाने की विशेष चर्चा है। अपनी नई टीम के ऐलान के वक्त अमित शाह आंबेकर के दायित्व का ऐलान करेंगे। इन्हें भाजपा मे राष्ट्रीय स्तर पर सह संगठन महामंत्री का पद भी दिया जा सकता है। भविष्य में इनके पूर्ण रूप से भाजपा का राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बनाए जाने की चर्चा है। वर्तमान में आंबेकर रूस में चल रही एक कार्यशाला में भाग ले रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT