Thursday , May 24 2018

विजय बहू गुना उत्तराखंड के नए चीफ़ मिनिस्टर

कांग्रेस के रुकन पार्लीमान विजय बहू गुना उत्तराखंड के नए चीफ़ मिनिस्टर होंगे । पार्टी लीडर ग़ुलाम नबी आज़ाद ने आज ये बात बताई । इसके साथ ही चीफ़ मिनिस्टर के ओहदा के लिए जारी क़ियास आराईयों का ख़ातमा हो गया । विजय बहू गुना के इलावा मर्क

कांग्रेस के रुकन पार्लीमान विजय बहू गुना उत्तराखंड के नए चीफ़ मिनिस्टर होंगे । पार्टी लीडर ग़ुलाम नबी आज़ाद ने आज ये बात बताई । इसके साथ ही चीफ़ मिनिस्टर के ओहदा के लिए जारी क़ियास आराईयों का ख़ातमा हो गया । विजय बहू गुना के इलावा मर्कज़ी वज़ीर हरीश रावत सदर प्रदेश कांग्रेस यशपाल आर्या साबिक़ रियास्ती वज़ीर हरक सिंह रावत पार्टी रुकन पार्लीमेंट सतपाल महाराज और रुकन असेंबली इंदिरा रुदेश इस दौड़ में पेश पेश थे ।

चीफ़ मिनिस्टर के नाम का ऐलान किए जाने के बाद कांग्रेस जनरल सेक्रेटरी-ओ-इंचार्ज पार्टी उमोर चौधरी बिरेन्द्र सिंह ने कहा कि कल गवर्नर को मकतूब पेश करते हुए विजय बहू गुना को सी एल पी लीडर मुंतखिब किए जाने से वाक़िफ़ कराया जाएगा । इसके बाद तक़रीब हलफ़ बर्दारी की तारीख़ को क़तईयत दी जाएगी ।

विजय बहू गुना ने सोनीया गांधी और राहुल गांधी से इज़हार-ए-तशक्कुर किया जिन्होंने उन पर भरपूर यक़ीन का इज़हार किया है । उन्होंने कहा है कि वो शफ़्फ़ाफ़ियत के साथ हुकूमत चलाते हुए उत्तरा खंड को एक मिसाली रियासत बनाने की कोशिश करेंगे ।इस पहाड़ी रियासत के विजय बहू गुना छठे चीफ़ मिनिस्टर हैं ।

12साल क़ब्ल उत्तर प्रदेश की तक़्सीम-ए-अमल में लाते हुए उत्तरा खंड रियासत क़ायम की गई थी । चीफ़ मिनिस्टर के ओहदा के लिए मुख़्तलिफ़ दावेदारों की वजह से गुज़श्ता दो दिन के दौरान ग़ैरमामूली सरगर्मीयां देखी गई । हरीश रावत के हामी गुज़श्ता चंद दिन से नई दिल्ली में कैंप किए हुए थे और उन्होंने सोनीया गांधी से भी मुलाक़ात करते हुए अपना मौक़िफ़ वाज़िह किया था ।

सदर कांग्रेस ने आज 10 जनपथ पर तमाम दावेदारों से दिन भर मुलाक़ातें की । 70रुकनी असेंबली में कांग्रेस 32 अरकान के साथ वाहिद बड़ी जमात के तौर पर उभरी । उसे दरकार अक्सरीयत के लिए चार अरकान की ज़रूरत थी जो इसने तीन आज़ाद और एक यू के डी रुकन की ताईद हासिल करते हुए बह आसानी पूरी कर ली ।

इन चार अर्कान असेंबली ने कल कांग्रेस की ग़ैरमशरूत ताईद का ऐलान किया था । इस तरह कांग्रेस पार्टी को चीफ़ मिनिस्टर का उम्मीदवार मुंतखिब करने में सहूलत हुई । विजय बहू गुना ने हाइकोर्ट जज की हैसियत से ख़िदमात अंजाम दी हैं और वो एक नामवर वकील भी रह चुके हैं ।

चूँकि वो सयासी घराने से ताल्लुक़ रखते हैं इसीलिए उन्होंने अपना पेशा तर्क करते हुए सरगर्म सियासत में हिस्सा लेना शुरू किया । उन के वालिद हेमवती नंदन बहू गुना साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर उत्तर प्रदेश रह चुके हैं । वो संजय गांधी के भी काफ़ी क़रीब थे । विजय बहू गुना बी जे पी के साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर बी सी खंडूरी के चचाज़ाद भाई और उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी सदर रीटा बहू गुना जोशी के भाई हैं । विजय बहू गुना कल परेड ग्राउंड पर 5 बजे शाम बहैसीयत चीफ़ मिनिस्टर हलफ़ लेंगे।

रियास्ती चीफ़ सेक्रेटरी सुभाष कुमार ने बताया कि देहरादून में परेड ग्राउंड तक़रीब हलफ़ बर्दारी के सिलसिला में तैयारीयां शुरू कर दी गई हैं । ताहम नासाज़गार मौसम की सूरत में ये मुक़ाम तब्दील भी किया जा सकता है।

TOPPOPULARRECENT