Tuesday , December 19 2017

विजय माल्या और ललित मोदी सहित 12 भगौड़ों के प्रत्यर्पण में भारत ने ब्रिटेन की मांगी सहायता

नई दिल्ली : भारत ने सोमवार को शराब कारोबारी विजय माल्या और ललित मोदी सहित 12 भगौड़ों के प्रत्यर्पण में ब्रिटेन की सहायता मांगी है। इसके साथ ही भारत ने ब्रिटेन से कहा है कि वह अपने क्षेत्र का उपयोग कश्मीरी और खलिस्तानी अलगाववादियों को न करने दे।
गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि नई दिल्ली में ब्रिटिश प्रवासी राज्यमंत्री ब्रैंडन लुईस के साथ द्विपक्षीय मुलाकात के दौरान इस मुद्दे को गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने मजबूती से उठाया। उन्होंने कहा कि वहीं रिजिजू ने शराब व्यवसायी विजय माल्या, पूर्व आईपीएल प्रमुख ललित मोदी और क्रिकेट बुकी संजीव कुमार सहित 13 भगौड़ों के प्रत्यर्पण में ब्रिटेन से सहायता की मांग की।

इसके साथ ही भारत ने 16 अन्य कथित अपराधियों को सजा दिलाने में कानूनी सहायता की भी मांग की। रिजिजू ने लुईस से कहा कि वे ब्रिटिश क्षेत्र का उपयोग कश्मीरी और खलिस्तानी अलगाववादियों जैसी भारत-विरोधी गतिविधियों के लिए न करने दें।

इससे पहले भी प्रधानमंत्री मोदी ने ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे से अपील की थी. मोदी ने टेरीजा से कहा, भारत में आथर्कि अपराध के मामलों में ब्रिटेन भागे भारतीय नागरिकों को वापस लाने में अपने देश का सहयोग सुनिश्चित करें.

गौरतलब है कि माल्या पिछले कई महीनों से ब्रिटेन में रह रहा है, उसके खिलाफ गिरफ्तारी वॉरंट जारी है. ब्रिटेन से उसको भारत भेजने के मामले में लंदन की एक अदालत में सुनवाई भी चल रही है. मोदी की जी20 शिखर सम्मेलन के दौरान ब्रिटेन की प्रधानमंत्री के साथ अलग से बैठक हुई. इस बैठक में भगोड़े अभियुक्तों को भारत को सौंपने के मामलों में ब्रिटेन की मदद मांगी गई थी.

TOPPOPULARRECENT