वित्त मंत्री जेटली ने नोटबंदी और जीएसटी पर दिया जवाब, चिंदबरम और सिन्हा निशाने पर

वित्त मंत्री जेटली ने नोटबंदी और जीएसटी पर दिया जवाब, चिंदबरम और सिन्हा निशाने पर
Click for full image

नई दिल्ली : अर्थव्यवस्था को लेकर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने नोटबंदी और जीएसटी पर उठ रहे सवालों का जवाब दिया। आलोचकों पर हमला करते हुए जेटली ने कहा कि अभी मेरी ऐसी स्थिति नहीं है कि मैं पूर्व वित्त मंत्री की हैसियत में लेख लिखूं, स्तंभकार बन जाऊं।

जेटली ने कहा कि शुरुआत में उनकी आलोचना इसलिए की गई क्योंकि उन्होंने बदलाव जल्दी किए। उन्होंने कहा,’जीएसटी के बाद सबसे बड़ी आलोचना यह हुई कि मैंने नोटबंदी के तुरंत बाद जल्दबाजी में जीएसटी लागू क्यों किया।

महंगाई पर अपनी सरकार की तारीफ करते हुए जेटली ने कहा, हमें विरासत में महंगाई दर 9 से 10 प्रतिशत के पास मिली थी जो अब 3.6 प्रतिशत तक आ चुकी है।

जेटली ने आगे कहा, हमारी सरकार ने निर्णायक कदम उठाए हैं और हमने नोटबंदी कर ब्लैक मनी पर हमला किया है। जीएसटी के सभी फैसले आम सहमति के साथ लिए गए हैं।जेटली ने कहा कि डायरेक्ट टैक्स पिछले साल की तुलना में 15.7 प्रतिशत ज्यादा आया है। राजनीतिक चंदे को पारदर्शी बनाने पर जेटली ने कहा, इस पर हम काम कर रहे हैं और यह आखिरी चरणों में है।

Top Stories