Monday , December 11 2017

विदाई भाषण में भावुक हुए राष्ट्रपति बराक ओबामा

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा आज शिकागो में अपने विदाई भाषण के दौरान भावुक हो गए। उन्होंने कहा कि नस्लवाद अब भी विभाजनकारी ताकत है। रंगभेद पर अपने विचार रखते हुए ओबामा ने कहा कि अब स्थिति में काफी सुधार है जैसे कई सालों पहले हालात थे अब वैसे नहीं हैं। हालांकि रंगभेद अभी भी समाज का एक विघटनकारी तत्व है। इसे खत्म करने के लिए लोगों के हृदय परिवर्तन की जरूरत है, सिर्फ कानून से काम नहीं चलेगा।

उन्होंने अमेरिकी जनता से अपील की कि अमेरिकी मुस्लिमों के खिलाफ किसी प्रकार के भेदभाव को नकार दें। उन्होंने कहा कि घर आकर अच्छा लग रहा है। बदलाव तभी होता है जब आम आदमी इससे जुड़ता है। आम आदमी ही बदलाव लाता है। हर रोज मैंने लोगों से कुछ न कुछ सीखा। हमारे देश के निर्माताओं ने हमें अपने सपने पूरे करने के लिए आजादी दी। हमारी सरकार ने यह प्रयास किया कि सबके पास आर्थिक मौका हो।

हमने यह भी प्रयास किया कि अमेरिका हर चैलेंज का सामना करने के लिए तैयार रहे। उन्होंने कहा कि मेरे कार्यकाल में पिछले 8 सालों में एक भी विदेशी आतंकी हमला नहीं हुआ। अमेरिका पर हमला करने वाला कोई भी सुरक्षित नहीं रह सकता। गौरतलब है कि हाल में हुए अमेरिकी राष्ट्रपति पद के चुनावों में डेमोक्रेट्स को हार का सामना करना पड़ा था और रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप ने जीत दर्ज की थी। डेमोक्रेट्स की ओर से हिलेरी क्लिंटन राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार थीं। 20 जनवरी 2017 को ओबामा का व्हाइट हाउस में आखिरी दिन होगा।

TOPPOPULARRECENT