विधायक हत्याकांड में शामिल माओवादियों की पहचान, दो महिलाएं शामिल

विधायक हत्याकांड में शामिल माओवादियों की पहचान, दो महिलाएं शामिल
Click for full image

विशाखापट्टणम : अरकू के विधायक किडारी सर्वेश्वर राव और पूर्व विधायक सिवेरी सोमा की हत्या में शामिल माओवादियों में से तीन की पहचान कर ली गई है। पुलिस ने सोमवार को इससे संबंधित जानकारी साझा की।

घटना के प्रत्यक्षदर्शियों से जुटाई गई जानकारी के आधार पर मैदान में उतरी पुलिस ने इसी दिशा में जांच को आगे बढ़ाया है। किडारी और सोमा पर किसने हमला किया था, यह जानने की कोशिश में लगी है पुलिस।

स्थानीय लोगों की मदद से तीन माओवादियों की पहचान कर चुकी पुलिस ने उनसे जुड़ी जानकारी और फोटो मीडिया के लिए जारी कर दिया है। यही नहीं, जिला पुलिस और विशेष पुलिस बल कूबिंग चला रही है। पुलिस अधीक्षक राहुल देव के मुताबिक डुंब्रीगुड़ा मंडल के तोट्टंगी के पास किडारी और सोमा पर हमला करने वालों में अधिकांश सशस्त्र महिला माओवादी ही थीं।

पुलिस द्वारा पहचान की गई तीन माओवादियों में वेंकटरवि चैतन्य उर्फ अरूणा, जो विशाखापट्टणम जिले के पेंदुर्ति मंडल के करकवानीपालेम की रहने वाली है। दूसरी, कामेश्वरी उर्फ स्वरूपा है, जो राज्य के पश्चिमी गोदावरी जिले के रिंकी-भीमवरम टाउन के सिंदी-चंद्री गांव की रहने वाली है।

इस हमले में तीसरा माओवादी जलमूरी श्रीनूबाबू उर्फ सुनील है, जो पूर्वी गोदावरी जिले के अड्डतीगला थानांतर्गत राइनो गांव के द्ब्बपालेम का रहने वाला है।

Top Stories