Tuesday , September 25 2018

विपक्षी दलों की एकजुटता से बीजेपी की परेशानी बढ़ेगी- रामदेव

योग गुरु स्वामी रामदेव ने कहा कि जिस प्रकार वेद सबके लिए हैं वैसे ही योग पर एकाधिकार नहीं होना चाहिए, एकाधिकार खतरनाक है। स्वामी रामदेव ने शिवधाम में पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि वेद केवल ब्राह्मण पढ़ेंगे ऐसा नहीं है। यह ईश्वरीय वाणी है इसमें स्त्री-पुरुष का भेद नहीं है। वेद में भेद कैसा, इसी तरह योग भी मानव मात्र के लिए है।

योग गुरु बाबा रामदेव ने बताया कि वह किसी एक दल से जुड़े हुए नहीं हैं। उनका कोई राजनीतिक एजैंडा नहीं है। वह सर्वदलीय निर्दलीय हैं और अच्छा काम करने वाले हर व्यक्ति के प्रशंसक हैं।

उन्होंने कहा कि वह पहले भारतीय नागरिक हैं बाद में संन्यासी। जब उनसे पूछा गया कि आप काला धन वापस देश में लाने की वकालत करते थे मगर काला धन तो आया नहीं, इसके उत्तर में उन्होंने कहा कि कालाधन आया तो जरूर है मगर उम्मीद से बहुत कम आया है। इससे लोगों में नाराजगी है।

विरोधी दलों द्वारा बनाए जा रहे महागठबंधन के बारे में उन्होंने माना कि अगर यह गठबंधन बनता है तो भाजपा को बहुत बड़ी परेशानी उठानी पड़ सकती है। स्वामी रामदेव ने कहा कि हम चाहते हैं कि भारतवासी संस्कारवान बनें और देश को समृद्धिशाली बनाएं। हमारा लक्ष्य योग के साथ स्वदेशी उद्योग को जोड़ना है।

TOPPOPULARRECENT