Thursday , December 14 2017

विपक्ष एकजुट हो जाए और सेक्युलर वोट न मिले तो बीजेपी कभी चुनाव जीत नहीं पायेगी: कांग्रेस

नई दिल्ली: देश में केंद्र सरकार द्वारा की गई नोटबंदी के बाद विपक्षी दल कांग्रेस, टीएमसी और आप पीएम मोदी का खुलेआम विरोध कर रहे हैं। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल एक साथ मिलकर मोदी द्वारा की गई नोटबंदी का जमकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं ताकि जनता जागरूक हो सके ये कदम पीएम मोदी ने आम जनताकी भलाई के लिए नहीं बल्कि अपने अमीर दोस्तों के हित में उठाया है।

ममता बनर्जी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी को अब कांग्रेस के सीनियर नेता गुलाम नबी आज़ाद का साथ भी मिल गया है। बीजेपी सरकार के खिलाफ खोले गए मोर्चे में विपक्ष एकजुट हो रहा है। इंडिया टुडे से बातचीत करते हुए आजाद ने कहा कि विपक्ष के विभाजित रहने की वजह से ही लोकसभा और विधानसभा चुनावों बीजेपी को जीत मिल पायी है।

ममता बनर्जी के बात को दोहराते हुए कहा ‘ममता जी की इस बात में बहुत वजन है. यह सच है कि विपक्षी दलों में एकजुटता के आभाव की वजह से ही मोदी सरकार फल-फूल रही है। बीजेपी अगर चुनाव जीतती है तो सिर्फसेकुलर वोटों के बंटवारे से और अगर सेकुलर वोट अगर एक हो जाएं, तो बीजेपी कभी न तो लोकसभा और ना ही विधानसभा चुनाव जीत पाएगी।

TOPPOPULARRECENT