Wednesday , December 13 2017

विरोध की आशंका के बावजूद गुलाम अली ने वारणसी में पेश किया कार्यक्रम

लखनऊ: वाराणसी में ‘संकट मोचन संगीत समारोह’ के आयोजकों ने शनिवार को बताया कि कुछ हिंदू अतिवादी समूहों द्वारा अवरोधों की धमकियों के बावजूद समारोह में पाकिस्तानी गजल उस्ताद गुलाम अली ने अपना प्रोग्राम पेश किया |

गजल गायक 26 अप्रैल को हनुमान मंदिर में प्रदर्शन करेंगे।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

मंदिर के पुजारी विशम्भरनाथ नाथ मिश्रा से एक बातचीत में , गुलाम अली ने कहा कि वह “बजरंगबली ने उन्हें दया और परोपकार के लिए आशीर्वाद दिया है और एक बार फिर से उन्हें अपने दर पर प्रदर्शन करने के लिए बुलाया है”।उन्होंने कहा कि संकट मोचन मंदिर में पिछली बार के अपने प्रोग्राम के बाद उन्हें बहुत शांति का एहसास हुआ था |

आयोजकों ने कहा कि वाराणसी की संस्कृति ऐसी नीच मानसिकता से ऊपर है और प्रदर्शन बहुत शानदार था |
हिन्दू युवा वाहिनी और शिवसेना जैसे कुछ हिंदू संगठनों के संगीत समारोह को विफल करने की धमकी दी थी शिवसेना नेता अजय चौबे शहर घटना के विरोध के रूप में पोस्टर और पर्चे बांटे , हालाँकि उनके विरोध को शहर में ज़्यादा समर्थन नहीं मिला |

आयोजकों ने कहा कि शहर के लोग बड़े दिल वाले हैं वो ऐसे बेवकूफों और तुच्छ मानसिकता की अनदेखी करते हैं|

TOPPOPULARRECENT