Wednesday , December 13 2017

विवादों में रहे टीवी पत्रकार अरनब गोस्वामी ने दिया “टाइम्स नाऊ” से इस्तीफा

नई दिल्ली। विवादों में रहे टीवी एंकर अरनब गोस्‍वामी के अंग्रेजी न्‍यूज चैनल “टाइम्‍स नाऊ” से इस्‍तीफा देने की खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि अरनब गोस्वामी ने एडिटो‍रियल मीटिंग में इस्‍तीफा सौंप दिया। इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि वे अपना खुद का चैनल लॉन्‍च कर सकते हैं।
मालूम हो कि अरनब गोस्वामी अक्सर विवादित बातों को लेकर दर्शकों के निशाने पर रहे हैं। कुछ दिन पहले ही अपने प्रोग्राम में मौजूद मेहमान और पत्रकार अशद अशरफ़ को आतंकीयो का समर्थक बता दिया था। जिसके बाद अरनब की जबर्दस्त आलोचना हुई थी। अपने शो में मेहमानों को नहीं बोलने देना और मेहमानों का अपमान करना यह अरनब गोस्वामी की खूबी रही है।
भारतीय टीम के पूर्व बिसफोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने भी आने से साफ मना कर दिया था। सहवाग ने कहा था कि फालतू प्रोग्राम के लिए मेरे पास टाईम नहीं है। अरनब गोस्वामी पर किसी खास राजनीतिक दल को सपोर्ट करने का भी इल्ज़ाम लगता रहा है। नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद पहला इंटरव्यू अरनब गोस्वामी ने ही किया है।

बताया जा रहा है कि एक नवंबर को “टाइम्‍स नाऊ” पर उनका आखिरी शो हो सकता है। वे टाइम्‍स नाऊ और ईटी नाऊ न्‍यूज के एडिटर इन चीफ पोस्‍ट पर थे। अरनब के टाइम्‍स नाऊ छोड़ने के फैसले के बाद सोशल मीडिया पर प्रतिक्रिया की बाढ़ आ गई है। उनके इस फैसले पर मिलीजुली प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है। ज्‍यादातर ट्विटर यूजर्स का यही पूछना है कि अब अरनब गोस्‍वामी कहां जाएंगे। साथ ही पूछ रहे हैं कि अब टाइम्‍स नाऊ का चेहरा कौन होगा।

कई यूजर्स ने अरनब के इस्‍तीफे को उनके प्रतिद्वंदियों के लिए राहत की खबर बताई है। एक यूजर ने लिखा कि वह चाहता है कि अरनब एनडीटीवी पर बरखा दत्‍त की जगह ले लें। कई यूजर्स ने लिखा है कि इस फैसले से आप और कांग्रेसी जैसी पार्टियों के खेमों में खुशी का माहौल है। वहीं बीजेपी के खेमे में दुख और निराशा का माहौल है।

TOPPOPULARRECENT