Wednesday , September 19 2018

विवाद बढ़ता देख मॉब लिंचिंग आरोपी को माला पहनाने पर जयंत सिन्हा ने मानी गलती, जताया खेद!

झारखंड में मॉब लिंचिंग के आरोपियों को माला पहनाने और लडडू खिलाने पर चौतरफा आलोचनाओं से घिरे केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने आखिरकार अब इस मामले पर अपनी गलती मान ली है। अब विवाद बढ़ा तो उन्होंने इस मामले पर खेद जताया है। जयंत ने कहा कि अगर मेरे काम से गलत संदेश गया है तो मैं खेद जताता हूं।

केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘मैंने कई बार कहा कि यह मामला सब-जुडिस है। इस मामले पर लंबी चर्चा करना सही नहीं होगा। सभी को न्याय मिलेगा और दोषियों को सजा मिलेगी। जो निर्दोष हैं, उनको न्याय जरूर मिलेगा। जहां तक माला पहनाने का मामला है, तो इससे गलत इम्प्रेशन गया है। इसका मुझे खेद और दुख है।’

बता दें कि जयंत सिन्हा ने पिछले सप्ताह रामगढ़ मॉब लिंचिंग के आरोपियों को जमानत पर रिहा होने के बाद माला पहनाकर स्वागत किया था और उन्हें लड्डू भी खिलाए थे। जयंत के इस कदम की कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और जयंत के पिता यशवंत सिन्हा समेत कई नेताओं ने निंदा की थी। यशवंत ने एक ट्वीट कर कहा था कि अब वह नालायक बेटे के लायक बाप हैं।

जयंत ने कहा, ‘मैंने पहले भी कहा था कि कानून अपना काम करेगा। दोषियों को सजा मिलेगी और निर्दोष रिहा होगा। अगर मॉब लिंचिंग के आरोपियों को माला पहनाने से गलत इंप्रेशन गया है तो मैं उसके लिए खेद जताता हूं।’

गौरतलब है कि रामगढ़ मॉब लिंचिंग के आरोपियों को मार्च में एक स्थानीय फास्ट ट्रैक अदालत ने 11 लोगों को दोषी पाते हुए उन्हें उम्रकैद की सजा सुनाई थी। आठ लोगों को झारखंड हाईकोर्ट से जमानत मिल गई थी। इसके बाद गत शुक्रवार को सभी आरोपी जयंत सिन्हा के घर गए थे और मंत्री उनका माला पहनाकर स्वागत किया था।

TOPPOPULARRECENT