विश्लेषण: गुजरात की 9 लोकसभा और दो राज्यसभा सीटों पर कांग्रेस बीजेपी के मुकाबले ज्यादा मजबूत हुई

विश्लेषण: गुजरात की 9 लोकसभा और दो राज्यसभा सीटों पर कांग्रेस बीजेपी के मुकाबले ज्यादा मजबूत हुई
Click for full image

अहमदाबाद। कांग्रेस हाल ही में हुए गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान भले ही राज्य में सरकार न बना सकी हो लेकिन यदि विधानसभा चुनाव के नतीजों का लोकसभा सीटों के लिहाज से विश्लेषण किया जाए तो कांग्रेस ने गुजरात की 26 में से 9 लोकसभा सीटों पर भाजपा के मुकाबले बढ़त बना ली है।

इसके साथ ही पार्टी को अगले साल होने वाले राज्यसभा चुनावों के दौरान भी 2 सीटों की बढ़त हासिल हो सकती है।

2014 के लोकसभा चुनाव में गुजरात से कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो गया था और भाजपा ने करीब 60.11 प्रतिशत वोट हासिल करते हुए राज्य की सारी 26 लोकसभा सीटों पर कब्जा कर लिया था लेकिन इन चुनावों ने कांग्रेस को गुजरात की कच्छ, बनासकांठा, पाटन, मेहसाना, सुंदरनगर, साबरकांठा, आणंद, जूनागढ़ और अमरेली लोकसभा सीटों पर भाजपा के मुकाबले बढ़त दिला दी है।

भाजपा पिछले चुनाव के दौरान इन 9 में से 4 सीटों पर 2 लाख से ज्यादा मतों के अंतर से जीती थी जबकि 3 सीटों पर भाजपा की जीत का अंतर 1 लाख से ज्यादा रहा था।

पार्टी को 2 सीटों पर 50 हजार से ज्यादा की लीड मिली थी। गुजरात की इस जीत के बाद 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी का हौसला बढ़ेगा।

Top Stories