Saturday , June 23 2018

विश्वा नाथन आनंद की शानदार कामयाबी

वक् आन ज़ी ( नीदरलैंड ) 20 जनवरी आलमी चम्पिय‌न विश्वनाथन आनंद ने 75 वीं टाटा स्टील चेस टूर्नामैंट में हॉलैंड के ल्यूक वान वैली को शिकस्त देते हुए सातवें राउंड के बाद मुशतर्का सबक़त हासिल करली है । नार्वे के मैग्नस कार लिसेन और हिन्दूस्तान के पी हरी कृष्णा के ख़िलाफ़ दो डराज़ के बाद आनंद ने आज शानदार मुज़ाहरा किया और वान वेले के ख़िलाफ़ बेहतरीन सलाहियतों का मुज़ाहरा करते हुए कामयाबी हासिल करली ।

मैग्नस कार लिसेन का मुक़ाबला हंगरी के पीटर लेको के ख़िलाफ़ डरा रहा इस तरह वो अब प्वाईंटस के एतबार से विश्वा नाथन आनंद के साथ बराबरी पर हैं। दूसरे नंबर पर अमेरीका के हेकारो नाकामोरा हैं जबकि रूस के सरजई करजाकुन तीसरे नम्बर पर हैं। इस टूर्नामैंट में अभी छः राउंडज़ के मुक़ाबले बाक़ी हैं और 14 खिलाड़ी मुक़ाबले में हिस्सा ले रहे हैं।

हरी कृष्णा को आर्मेनिया के लिए इन अरोनेन् के साथ पांचवां मुक़ाम हासिल है । वान वैली इस शिकस्त के बाद इटली के फ़ेबियानो करा के साथ आठवें मुक़ाम पर हैं। हॉलैंड के इवान सोकोलोफ़ का मुक़ाबला सातवें राउंड में हरी कृष्णा के साथ डराव‌ रहा है और अब वो प्वाईंटस के एतबार से सब से नीचे हैं।

सात‌ मुक़ाबलों में उन्हें सिर्फ़ दो प्वाईंटस हासिल हैं। दो दिन से जारी मुक़ाबलों में तक़रीबा मुक़ाबले किसी नतीजा के बगैर ख़त्म होगए जबकि सिर्फ़ विश्वा नाथन आनंद और नाका मोरा के हिस्से में कामयाबियां आएं। अमेरीकी नाका मोरा ने वांग हा के ख़िलाफ़ कामयाबी दर्ज की ।

अरोनेन् को भी करजाकुन‌ के ख़िलाफ़ लगभ‌ग‌ कामयाबी मिल गई थी ताहम करजाकुन ने आख़िरी लमहात में अपनी दिफ़ाई
हिक्मत-ए-अमली को मजबूत‌ करते हुए शिकस्त को टालदिया । इब्तिदा-ए-में हालाँकि विश्वा नाथन आनंद को भी मुश्किलात का सामना था लेकिन उन्होंने बाद में अपने खेल में बेहतरी पैदा की और मैच में ना सिर्फ़ वापसी की बल्कि शानदार कामयाबी भी दर्ज
करवाई ।

TOPPOPULARRECENT