Monday , June 25 2018

विश्व कि कुरानी और रुहानी मुहिम में इंडोनेशिया के क़ारी के शरीक होने कि उम्मीद‌

* सफ़ीर जनरल ग़ालिब का पिर नक़्शबंदी के एज़ाज़ में ज़ुहराना

* सफ़ीर जनरल ग़ालिब का पिर नक़्शबंदी के एज़ाज़ में ज़ुहराना
नई दिल्ली । दुनिया की सब से बड़ी मुस्लिम आबादी वाले मुलक इंडोनेशिया के हिंदूस्तान में तैनात‌ सफ़ीर लेफ़टीनन्ट जनरल मुहम्मद ग़ालिब ने आज अपनी क़ियामगाह अहाता सिफ़ारत ख़ाना इंडोनेशिया जानकिया पूरी नई दिल्ली में मौलाना पिर सय्यद शब्बीर नक़्शबंदी इफ़तिख़ारी मुहर्रिक विश्वीय कुरानी और रुहानी मुहिम के एज़ाज़ में ज़ुहराना तरतीब दिया जिस में आला सिफ़ारती ओहदेदारों के इलावा चंद मुमताज़ शख्सियतों ने भी शिरकत की ।

इंडोनेशियाई सफ़ीर ने पिर नक़्शबंदी की क़ियादत में पिछ्ले 23 साल से मुल्क भर में माह रमज़ान उल-मुबारक में चलाई जाने वाली कुरानी मुहिम को वक़्त की अहम ज़रूरत क़रार दिया ।

पिर नक़्शबंदी ने बताया कि ये मुहिम जहां आलमी अमन और भाई चारगी का पैगाम देती है वहीं इस एक उम्मत के मज्बुत करने के साथ पैग़ाम कुरानी को घर घर पहुंचाने की मेहनत‌ की जाती है ।

जनरल ग़ालिब ने इस साल पिर नक़्शबंदी के मश्वरे पर इस बात से इत्तिफ़ाक़ किया कि वो हुकूमत इंडोनेशिया को ये दावत रवाना करेंगे ताकि एक मुमताज़ क़ारी क़ुरान उन के मुल़्क की इस मुहिम में नुमाइंदगी करते हुए अपने फ़न क़िरात से अहल हिंद को ज़रूर मुतास्सिर करेंगे ।

सफ़ीर इंडोनेशिया ने अपने कौंसलर एमबिसी डाक्टर सोनू को हिदायत दी कि वो इस ख़सूस में ज़रूरी कार्रवाई करें ।इस से पहले पिर नक़्शबंदी की सिफ़ारत ख़ाना में आमद पर बेगम जनरल ग़ालिब और मिसिज़ हानि डिप्टी सफ़ीर इंडोनेशिया ने आवकार किया । इस मौके पर मुमताज़ क़ानूनदां जनाब ख़ालिद इसरार एडवोकेट सुप्रीम कोर्ट ने सफ़ीर का शुक्रीया अदा किया।।

TOPPOPULARRECENT