Monday , December 11 2017

वीनू गोपाल रेड्डी की लोक सभा में चाक़ू लाने की तरदीद

तेलुगूदेशम के रुक्न पार्लिमेंट वीनू गोपाल रेड्डी जिन पर तलंगाना मसला पर लोक सभा में बदनज़मी और गड़बड़ फैलाने का इल्ज़ाम है ने आज इस इल्ज़ाम को झूट से ताबीर किया है कि वो ऐवान में चाक़ू लेकर दाख़िल हुए थे। साथ ही उन्हों ने दावा किया कि

तेलुगूदेशम के रुक्न पार्लिमेंट वीनू गोपाल रेड्डी जिन पर तलंगाना मसला पर लोक सभा में बदनज़मी और गड़बड़ फैलाने का इल्ज़ाम है ने आज इस इल्ज़ाम को झूट से ताबीर किया है कि वो ऐवान में चाक़ू लेकर दाख़िल हुए थे। साथ ही उन्हों ने दावा किया कि ख़ुद उन पर तकरीबन 10 अफ़राद ने हमला किया है।

पार्लीमेंट के बाहर ज़राए इबलाग़ से बात करते हुए रेड्डी ने कहा कि ये सरासर झूट है कि मैं ऐवान के अंदर चाक़ू लेकर गया था। ये ऐसी झूट है जो हुकूमत की जानिब से फैलाई गई है। मैं सिर्फ़ माईक पकड़े हुए था जो चाक़ू की तरह नज़र आरहा था। टी डी पी एम पी ने मज़ीद कहा कि आज का दिन पार्लीमेंट की तारीख का स्याह दिन है। मैं सिर्फ़ तलंगाना बिल पेश किए जाने की मुख़ालिफ़त कररहा था, जिस वक़्त ये वाक़िया पेश आया।

उन्होंने कहा कि वो लोग ज़बर्दस्ती बिल को पेश करना चाहते थे और इसी बीच‌ में सेक्रेटरी जनरल के सामने से माईक खींच लिया, बस यही उनके हाथ में आला था जो दूर से चाक़ू की तरह नज़र आया। मुझे गैरज़रूरी तौर पर सुशील कुमार शिन्दे और कमल नाथ ने इस मुआमले में घसीटा है। रेड्डी ने इल्ज़ाम आइद किया कि तकरीबन 10 अरकान पार्लीमेंट ने उन्हें सियासी तौर पर और जिस्मानी तौर पर ख़त्म करने के लिए पीछे से हमला करदिया था।

कांग्रेस एम पीज मार्शल की तरह काम कररहे थे। उन्होंने इल्ज़ाम आइद किया कि जिन अरकान पार्लीमेंट ने उन पर हमला किया, उन में राज बब्बर, पूनम प्रभाकर राव‌, मंयक सरकार, इंजन कुमार यादव, विजय‌ शांति और नामा नागेश्वर राव‌ शामिल हैं। रेड्डी जो दीगर टी डी पी अरकान पार्लीमेंट के साथ मौजूद थे, पार्लीमेंट से बाहर निकलते वक़्त वज़ीर देही तरक्कियात जय‌ राम रमेश के ख़िलाफ़ नारा बाज़ी कररहे थे।

TOPPOPULARRECENT