वीर सावरकर ने तिरंगे को देश का झंडा मानने से इंकार किया था- ओवैसी

वीर सावरकर ने तिरंगे को देश का झंडा मानने से इंकार किया था- ओवैसी
Click for full image

AIMIM के मुखिया और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तिरंगा यात्रा पर सवाल उठाया है. ओवैसी ने कहा कि जिस तिरंगा यात्रा की बात पीएम मोदी कर रहे हैं, उसी तिरंगे को वीर सावरकर ने देश का झंडा मानने से इंकार कर दिया था.

शनिवार को लखनऊ में अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए असदुद्दीन ने पीएम मोदी की तिरंगा यात्रा को लेकर विवादास्पद बयान दिया, जिस पर सियासत होना लगभग तय है. ओवैसी ने कहा कि जिस तिरंगे को लेकर पीएम मोदी यात्रा निकाल रहे हैं, उनके मंत्री गांव-गांव घूम रहे हैं. उसे एक मुसलमान ने बनाया था, जबकि सावरकर सरीखे उनके नेताओं ने इसे नहीं माना था. ओवैसी ने अपनी तकरीर में इसे सही ठहराने के लिए एक वेबसाइट का हवाला दिया, जिसमें सावरकर की इस बात का जिक्र है.

पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा कि वो तिरंगा फहराएंगे और जन-गण-मन भी गाएंगे, लेकिन तिरंगे को लेकर बीजेपी को अपनी अंतरात्मा में झांकना चाहिए. ओवैसी यहीं नहीं रुके. उन्होंने कहा कि इस देश में आजादी के लिए संघर्ष शुरुआत मुसलमानों ने की, कांग्रेस या दूसरे दल के किसी नेता ने नहीं, लेकिन मुसलमानों को इतिहास में जगह नहीं मिली क्योंकि इतिहास लिखने वाले मुसलमान नहीं थे.

Top Stories