Monday , December 11 2017

वुज़ू की फ़ज़ीलत

हजरत अब्दुल्लाह बिन उमर रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है के, रसूल-ए-पाक (स०)ने फरमाया, जिसने वुज़ू पर वुज़ू किया, उसके लिए दस नेकियां लिखी जाती हैं। (तिर्मिज़ी)

हजरत अब्दुल्लाह बिन उमर रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है के, रसूल-ए-पाक (स०)ने फरमाया, जिसने वुज़ू पर वुज़ू किया, उसके लिए दस नेकियां लिखी जाती हैं। (तिर्मिज़ी)

TOPPOPULARRECENT