Friday , December 15 2017

वेस्ट इंडीज़ के ख़िलाफ़ हिंदुस्तान ए का टी 20 मुक़ाबला

तीन मुक़ाबलों की वन्डे सीरीज़ में हैरानकुन हार‌ बर्दाश्त करने के बाद युवराज सिंह की ज़ेर-ए-क़ियादत हिंदुस्तानी ए टीम केलिए मौक़ा है कि वो आज‌ मेहमान वेस्ट इंडीज़ के ख़िलाफ़ वाहिद टी 20 मुक़ाबले में कामयाबी हासिल करे।

तीन मुक़ाबलों की वन्डे सीरीज़ में हैरानकुन हार‌ बर्दाश्त करने के बाद युवराज सिंह की ज़ेर-ए-क़ियादत हिंदुस्तानी ए टीम केलिए मौक़ा है कि वो आज‌ मेहमान वेस्ट इंडीज़ के ख़िलाफ़ वाहिद टी 20 मुक़ाबले में कामयाबी हासिल करे।

वेस्ट इंडीज़ ए के ख़िलाफ़ तीन मुक़ाबलों की सीरीज़ में 1-2 की हार‌ हिंदुस्तानी टीम केलिए एक नादिर हार‌ है हालाँकि उसने इस से पहले न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ वन्डे सीरीज़ में 3-0 की कामयाबी हासिल की थी। मेज़बान टीम केलिए कप्तान युवराज सिंह फिर एक मर्तबा कलीदी खिलाड़ी होंगे।

क्योंकि उन्होंने 50 ओवर्स की सीरीज़ में 89 गेंदों में सैंचुरी स्कोर करने के इलावा दीगर दो मुक़ाबलों में 40 और 61 रंस‌ की इनिंगस‌ खेली हैं। मज़कूरा बेहतरीन मुज़ाहिरों के ज़रिया उन्होंने हिंदुस्तानी टीम में वापसी केलिए अपनी दावेदारी पेश की है। मजमूई तौर पर हिंदुस्तानी टीम ने बैटिंग में बेहतर मुज़ाहरा किया है जैसा कि युवराज सिंह के मुज़ाहिरों के इलावा यूसुफ़ पठान ने भी चंद रंज़ बनाए हैं लेकिन ओपनर अर्बन उथप्पा का फ़ार्म तशवीश का बाइस है जिन्हों ने तीन मुक़ाबलों में बिलतर्तीब 23 10 और 27 रंस‌ स्कोर किए हैं।

बैटिंग शोबा ओपनर अनमकट चंद और रॉबिन उथप्पा के इलावा युवराज सिंह बाबा अपराजीत केद्र जय‌ देव और यूसुफ़ पठान के इर्दगिर्द घूमता है। बौलिंग शोबा में फ़ास्ट बोलर विनय‌ कुमार ने जहां बेहतर मुज़ाहरा किया है वहीं जय‌ देव अनम‌कट के मुज़ाहिरे मायूसकुन हैं।

हिंदुस्तानी टीम अगर टी 20 मुक़ाबले में कामयाबी चाहती है तो उसके बोलरों को बेहतर मुज़ाहरा करना होगा। दूसरी जानिब मेहमान टीम कर्क ऐडवर्ड जोनाथन कार्टर केरन पॉवेल और एंड्री रसलस के बेहतर मुज़ाहिरों की बदौलत वन्डे सीरीज़ अपने नाम की है। बौलिंग में नकीता मिलर अहम नाम हैं।

TOPPOPULARRECENT