Thursday , April 26 2018

वैज्ञानिकों का दावा : पेनकिल्लर टूटे हुए दिल को शांत कर सकते हैं, लेकिन सिर्फ महिलाओं को

दर्द निवारक दवाएं महिलाओं को ब्रेक-अप के बाद दिल के दर्द को शांत करने और सिर दर्द को कम करने में मदद कर सकते हैं, लेकिन पुरुषों के लिए ये नहीं है। वैज्ञानिकों को एक अध्ययन से पता चला है कि महिलाओं को पेनकिल्लर आईबुप्रोफेन लेने से असफल रोमांस के बाद कम परेशानी महसूस कर सकते हैं, जो सामाजिक अस्वीकृति से परेशान हैं या पिछले विश्वासघात से उनका दिल टूट चुका है वैसे औरतों के लिए पेनकिल्लर आईबुप्रोफेन असरदार है, लेकिन यह प्रभाव पुरुषों पर लागू नहीं होता।

वोलंटियर एक वर्चुअल गेम ‘कैच’ में शामिल होते हैं, जब दूसरे ने उन्हें गेंद को फेंका तो उन्होंने किसी करीबी से विश्वासघात के बारे में लिखा। इबुप्रोफेन पर महिलाओं ने बाद में कम सामाजिक दर्द की सूचना दी। कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं का मानना ​​है कि नशीली दवाओं से संवेदनाओं को नरम कर देती है, लेकिन भावनात्मक दर्द को दबाने के लिए पुरुष के लिए बाधा उत्पन्न होती है।

उनकी रिपोर्ट, जर्नल पॉलिसी इनसाइट्स में व्यवहार और मस्तिष्क विज्ञान के परीक्षणों सहित कई अध्ययनों में पाया गया कि अप्रिय घटनोंओं या अन्य लोगों की पीड़ा के बारे में पढ़ने के बाद पेरासिटामोल लेने पर रोगी कम व्यथित थे।

वे अवसाद और सामाजिक चिंता विकार जैसे समस्याओं में मदद पाने के लिए पेनकिल्लर दवाओं का उपयोग करने की बात करते हैं। लेकिन प्रमुख लेखक डॉ काइल रैटनर इस निष्कर्ष को ‘खतरनाक’ कहा है क्योंकि उपभोक्ताओं को दर्द निवारकों से मनोवैज्ञानिक प्रभावों की आशा नहीं है। और अन्य विशेषज्ञों का मानना ​​है कि अक्सर इमोशनल पेन एक स्वस्थ प्रतिक्रिया होती है जो भावनात्मक दर्द से रिकवरी होने में मदद मिलती है।

TOPPOPULARRECENT