Sunday , December 17 2017

वैज्ञानिकों ने पृथ्वी के नजदीक नए ग्रह का पता लगाया जहां रह सकते हैं इंसान

वैज्ञानिकों ने एक रिपोर्ट में दावा किया है कि पृथ्वी के नज़दीक एक ग्रह है जो इसी के आकार का है। यह बहुत छोटा धुंधले लाल रंग का है और सिर्फ 11 प्रकाश वर्ष दूर है. इस नई दुनिया को रॉस 128 बी नाम दिया गया है जो कि टेम्परेट प्लैनेट है. यह ‘शांत तारा’ के तौर पर जाना जाता है. खास बात यह है कि इसे रेडिएशन से खत्म होने का खतरा नहीं है.

रिसर्च में कहा गया है कि यहां रहने के लिए जरूरी कुछ सामान्य चीजें भी मिली हैं. यह ग्रह पृथ्वी की तुलना में थोड़ा भारी है. ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि यह चट्टानी संसार है, जिसकी सतहें ठोस हैं. होस्ट स्टार (मेजबान तारा) सूर्य की तुलना में ज्यादा ठंडा और धुंधला है. लेकिन, रॉस 128 बी ज्यादा छोटा है और उसका एक साल सिर्फ 9.9 दिन का है.

यह ग्रह पृथ्वी की तुलना में 38 फीसदी ज्यादा रेडिएशन ग्रहण करता है, जिससे उसका तापमान -76 से 68 डिग्री फॉरेनहाइट है, जो कि काफी संतुलित है. इससे ऐसा मालूम होता है कि वहां पृथ्वी की तरह वातावरण है.

लेखक ने रॉस 128 बी को एक शीतोष्ण ग्रह (टेंपरेट ग्रह) कहा है. यहां यह स्पष्ट नहीं होता है कि यह रहने योग्य क्षेत्र के अंतर्गत आता है या नहीं. यह एक गोल्डीलॉक्स क्षेत्र है, जहां एक ग्रह बस उतना ही गर्म होता है, जिससे उसकी सतह पर लिक्विड वाटर (तरल पानी) पर्याप्त मात्रा में मौजूद हो.

जेनेवा यूनिवर्सिटी में एस्ट्रोनॉमर और इस स्टडी के को-ऑथर निकोला एस्टुडिलो-डिफ्रू के अनुसार, तारों की कक्षाएं आकाशगंगा के माध्यम से प्रथ्वी की ओर ही चल रही हैं. ऐसे में 71,000 साल में यह हमारा सबसे नजदीकी पड़ोसी हो जाएगा और रॉस 128 की सबसे नजदीकी टेम्परेट प्लानेट होगा.

TOPPOPULARRECENT