Thursday , December 14 2017

वैट के खिलाफ करो या मरो की जंग

हैदराबाद, 11 मार्च- कपड़ा ताजिरों ने आज वैट के ा़खिलाफ अपनी और तेज़ करते हुए सरकार को आगाह किया कि वैट हटाने तक उनका बंद खत्म नहीं होगा। साथ ही ताजिरों की तन्ज़ीमों ने मर्कजी सरकार और कांग्रेस हाईकमान दोनों से भी सीएम किरण कुमार रेड्डी के हटीले रवैये की शिकायत भी की है।
आज यहाँ आयोजित सहाफियों से ा़खिताब करते हुए आन्ध्र-प्रदेश फेडरेशन ऑफ टेक्सटाइल असोसिएशन्स(अफटा) के सदर ए. प्रकाश ने कहा कि देश भर में उनकी तहरीक की हौसला अफ़ज़ाई की गयी है।

और रियासत की अपोजिशन की पार्टियों ने भी उनकी हिमायत की है। अगर किरण कुमार रेड्डी उनकी बात नहीं मानते तो उन्हें अगले चुनावों में इसका नतीजे भुगतने पड़ सकते हैं।

फेडरेशनके अरकान ने याद दिलाया कि इससे पहले एनटीआर सरकार ने कपड़े पर इन्ट्री टेक्स लगाया था तो वो सरकार में नहीं रह पाये थे और फिर चेन्ना रेड्डी ने उनकी मांग को पूरा करते हुए वह टैक्स हटाया था। अब उसी कांग्रेस सरकार के सीएम एन. किरण कुमार रेड्डी वैट लगाकर कपड़ा ताजिरों को हारासां कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनकी ग़ैर मुद्दती हड़ताल जारी रहेगी। पीर को सिकंदराबाद में एमजी रोड़ पर वैट जनाजा निकाला जाएगा।
साथ ही 17 मार्च को गुन्टुर में एक बैठक की जाएगी। उसके बाद ज़रूरत पड़ने पर हैदराबाद में तिजारत से जुड़े लाखों लोग जमा होकर सरकार और वैट की मुख़ालिफत करेंगे।

संतोष चोकानी ने कहा कि देश में किसी भी रियसत में वैट पर अमलावरी नहीं हुई है। आन्ध्र प्रदेश में वैट पर अमलावरी के चलते प्रदेश में कपड़ों की तिजारत चौपट हो गयी है।

TOPPOPULARRECENT