Saturday , September 22 2018

वोज़रा और अरकान-ए-पार्लीमेंट-ओ-असेंबली की एक दूसरे पर तन्क़ीदें, सत्य ना रायना ब्रहम

सदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी मिस्टर बी सत्य ना रायना ने वुज़ोरा, अरकान-ए-पार्लीमेंट और अरकान असेंबली की एक दूसरे पर खुले आम तन्क़ीदों पर सख़्त ब्रहमी का इज़हार करते हुए मीडीया में बयान बाज़ी करने वालों से वज़ाहत तलब की है। उन्हों न

सदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी मिस्टर बी सत्य ना रायना ने वुज़ोरा, अरकान-ए-पार्लीमेंट और अरकान असेंबली की एक दूसरे पर खुले आम तन्क़ीदों पर सख़्त ब्रहमी का इज़हार करते हुए मीडीया में बयान बाज़ी करने वालों से वज़ाहत तलब की है। उन्हों ने ज़िमनी इंतेख़ाबात में कांग्रेस उम्मीदवारों की कामयाबी को यक़ीनी क़रार दिया।

आज अपने असेंबली चैंबर में मीडीया से बातचीत करते हुए सदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने कहा कि हालिया दिनों में वुज़ोरा, अरकान-ए-पार्लीमेंट और अरकान असेंबली की एक दूसरे पर तन्क़ीदों से पार्टी का वक़ार मजरूह हो रहा है। उन्हों ने आज तमाम क़ाइदीन से टेलीफ़ोन पर बातचीत करते हुए उन्हें पार्टी की हदूद पार ना करने और पाबंद डिसिप्लिन होने का मश्वरा दिया है। अगर किसी को किसी से इख़तिलाफ़ है तो उसे पार्टी हलक़ों में पेश करे, मीडीया से रुजू होने पर अवाम में ग़लत तास्सुर पैदा हो रहा है।

वुज़ोरा और अरकान असेंबली की जानिब से इंतेख़ाबात से दो साल कब्लपारलीमानी नशिस्त से मुक़ाबला के ऐलान की वजूहात पूछने पर मिस्टर बी सत्य ना रायना ने कहा कि रियासत में कांग्रेस पार्टी बहुत ज़्यादा मज़बूत हो गई है, पार्टी की अवामी मक़बूलियत देखते हुए वुज़ोरा और अरकान असेंबली लोक सभा के लिए मुक़ाबला करने की ख़ाहिश ज़ाहिर कर रहे हैं, लेकिन उन की हिदायत के बाद अब मुस्तक़बिल में ऐसे वाक़ियात रूनमा नहीं होंगे।

गर्वनमेंट विहिप मिस्टर जय प्रकाश रेड्डी की जानिब से हलक़ा लोक सभा मेदक से मुक़ाबला के ऐलान का हवाला देने पर सदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने कहा कि शायद मेरा पैग़ाम मौसूल होने से कब्ल मिस्टर जगह रेड्डी मीडीया से बातचीत कर चुके थे। इलावा अज़ीं हलक़ा लोक सभा मेदक पर टी आर एस का क़बज़ा है, जगह रेड्डी का मुतालिबा या ख़ाहिश ग़लत नहीं है। जहां कांग्रेस के अरकान-ए-पार्लीमेंट होँ, वहां से मुक़ाबले का ऐलान ठीक नहीं है।

फ़िल्म प्रोडयूसर दासरी नारायण राव को क्या दुबारा रुक्न राज्य सभा बनाया जाएगा? या उन की जगह चिरंजीवी को मौक़ा दिया जाएगा? के सवाल का जवाब देते हुए उन्हों ने कहा कि चिरंजीवी का ख़ुसूसी मसला है, वो चाहते हैं कि दासरी नारायण रावके साथ तमाम अरकान को दुबारा मौक़ा मिले। इस मुआमले में इन का रोल सिर्फ इतना होगा कि जो दरख़ास्तें उन तक पहुंच रही हैं, उन्हें हाई कमान तक पहुंचा दिया जाय। अरकान के इंतिख़ाब का क़तई फ़ैसला हाई कमान का होगा।

TOPPOPULARRECENT