Thursday , December 14 2017

वोटरों का रुझान जानने के लिए सियासी पार्टियों ने सर्वे कंपनियों का लिया सहारा

पार्लियामनी इंतिख़ाब से पहले लोगों का रुख जानने के लिए तकरीबन तमाम सियासी पार्टियों ने सर्वे कंपनियों का सहारा लिया है। इन कंपनियों ने रियासती में सर्वे शुरू कर दिया है। फरवरी आखिर या मार्च तक तमाम पार्टियों का सर्वे पूरा हो जाए

पार्लियामनी इंतिख़ाब से पहले लोगों का रुख जानने के लिए तकरीबन तमाम सियासी पार्टियों ने सर्वे कंपनियों का सहारा लिया है। इन कंपनियों ने रियासती में सर्वे शुरू कर दिया है। फरवरी आखिर या मार्च तक तमाम पार्टियों का सर्वे पूरा हो जाएगा। इसी रिपोर्ट की बुनियाद पर पार्टियां अपनी पॉलिसी तय करेंगी।

भाजपा में दो सतह पर चल रहा सर्वे

भाजपा दो सतह पर सर्वे करा रही है। एक पार्टी की मर्कज़ी यूनिट से तो दूसरा गुजरात की कंपनी से। रिपोर्ट 15 फरवरी तक आने की उम्मीद है। मीडिया इंचार्ज सांवरमल अग्रवाल ने कहा कि यह जरूरी हो गया है।

दिल्ली की टीम कर रही कांग्रेस का सर्वे

कांग्रेस के लिए दिल्ली की कंपनी सर्वे कर रही है। रिपोर्ट फरवरी में आएगी। पार्टी तर्जुमान शैलेश सिन्हा ने कहा कि पार्टी के प्रोग्राम कैसे चल रहे हैं, आवाम के दरमियान क्या रुझान है, इसके लिए पार्टी सर्वे कराती रहती है।

आजसू-जेवीएम की भी सर्वे

आजसू ने दिल्ली की एक कंपनी की सर्विस ली है। एक रिपोर्ट मिल चुकी है। दूसरी रिपोर्ट भी आने वाली है। जेवीएम ने लिए भी दिल्ली की कंपनी काम कर रही है, जो मीडिया से जुड़े सर्वे करती है। हालांकि पार्टी क़ायेदीनों ने सर्वे से इनकार किया है।

TOPPOPULARRECENT