Friday , August 17 2018

व्हाट्सएप पर विवादित टिप्पणी के बाद थाने में घुस आई भीड़, हंगामा

बरेली- व्हाट्सएप ग्रुप में एक धर्मगुरु पर की गई विवादित टिप्पणी के चलते रविवार को किला थाना परिसर में बवाल हो गया। टिप्पणी करने का आरोपी तो नहीं मिला। उसके चाचा और दोस्त को पकड़कर जैसे पुलिस थाने लाई, लोगों ने पुलिस जीप पर हमला कर दिया। पुलिस ने लाठी फटकारते हुए उसे किसी तरह बचाकर हवालात में डाला। इसके बाद भी काफी देर तक गुस्साए लोग वहां जमा रहे। बाद में समझाबुझाकर उन्हें भेजा गया। इसे लेकर अभी शहर में तनाव है। इसे देखते हुए कई बाजार बंद हो गए।

विवादित टिप्पणी की खबर व्हाट्सएप पर वायरल होते ही पुलिस करीब पांच बजे आरोपी मोहित सक्सेना उर्फ मोनू के गुलाबनगर स्थित घर दबिश देने पहुंची। लेकिन वह नहीं मिला। वहां मौजूद उसके चाचा संजीव सक्सेना और उसके दोस्त राहुल सक्सेना को हिरासत में ले लिया। उन्हें जीप में जैसे ही पुलिस थाने लेकर पहुंची। थाने की बाउंड्री के बाहर बड़ी संख्या में मौजूद लोग जान से मार देंगे और मारो.. मारो की आवाज करते हुए पुलिस जीप पर टूट पड़े। दोनों को आरोपी समझते हुए भीड़ उन्हें खींचकर ले जाने की कोशिश करने लगी।

कोतवाली इंस्पेक्टर गीतेश कपिल और किला इंस्पेक्टर कमलेश कांत वर्मा दोनों को बचाते हुए थाने के अंदर लेकर आए और हवालात में डाल दिया। गुस्साए लोगों ने पुलिस कर्मियों के साथ धक्कामुक्की करते हुए हवालात के गेट को खोलकर दोनों को अपने कब्जे में लेने के कोशिश की। इस पर पुलिस को लाठी फटकार कर उन्हें खदेड़ना पड़ा। एसपी सिटी अभिनंदन सहित तीनों सर्किल ऑफिसर पुलिस बल के साथ मौके पर आ गए। तनाव को देखते हुए व्यापारियों ने अपनी दुकानें भी बंद कर दी। एहतियातन पुलिस बल की तैनाती की गई है।

TOPPOPULARRECENT