Monday , December 11 2017

वज़ीर-ए-आज़म का थाईलैंड दौरा, दिफ़ाई शिराकतदारी में इज़ाफ़ा करेगा

बैंकाक 30 मई (पी टी आई) वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह एक रोज़ा सरकारी दौरे पर कल बैंकाक पहूंचेंगे ताकि हिन्दुस्तान की मशरिक़ की तरफ़ देखो पालिसी पर अमल किया जा सके। वो दिफ़ाई शिराकतदारी में बाहमी ताल्लुक़ात में इज़ाफ़ा करने की कोशिश करेंगे। वज़ीर

बैंकाक 30 मई (पी टी आई) वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह एक रोज़ा सरकारी दौरे पर कल बैंकाक पहूंचेंगे ताकि हिन्दुस्तान की मशरिक़ की तरफ़ देखो पालिसी पर अमल किया जा सके। वो दिफ़ाई शिराकतदारी में बाहमी ताल्लुक़ात में इज़ाफ़ा करने की कोशिश करेंगे। वज़ीर-ए-आज़म के दौरे से क़बल वज़ारत-ए-ख़ारजा थाईलैंड ने कहा कि ये दौरा दोनों ममालिक के हिंद – थाईलैंड दिफ़ाई शिराकतदारी में इज़ाफ़ा की ख़ाहिश ज़ाहिर करता है।

इस शिराकतदारी का ऐलान गुज़िश्ता साल जनवरी में किया गया था। आला सतही वफ़ूद के बाहमी दौरों से दोनों ममालिक के क़रीबी ताल्लुक़ात ज़ाहिर होते हैं। इस के अलावा थाईलैंड की मग़रिब की जानिब देखो और हिन्दुस्तान की मशरिक़ की जानिब देखो पालिसीयों के इमतिज़ाज का नमूना पेश करता है।

दौरा में कई मुफ़ाहमत की याददाश्तों पर दस्तख़त किए जाऐंगे जो ख़ला, मुजरिमीन की तहवील, इत्तलाआती टेक्नोलोजी, तालीमात, मआशी सुराग़ रसानी शोबों में मुआहिदे किए जाऐंगे ताकि गै़रक़ानूनी तौर पर रकमों की मुंतक़ली का ख़ातमा किया जा सके। अलावा अज़ीं जुग़राफ़ियाई सियासत, सहि फ्रीकी क़ौमी शाहराह प्रोजेक्ट जिस में हिन्दुस्तान, थाईलैंड और म्यानमार शामिल होंगे, दिफ़ा, साईंस‍-ओ‍-टेक्नालोजी, तालीमात और सक़ाफ़्त जैसे मसाइल पर वुज़राए आज़म हिंद-ओ-थाईलैंड तबादला-ए-ख़्याल करेंगे।

मनमोहन सिंह का दौरा किसी हिन्दुस्तानी वज़ीर-ए-आज़म का 2004 के बाद अव्वलीन दौरा होगा। 2004 में उस वक़्त के वज़ीर-ए-आज़म अटल बिहारी वाजपाई ने थाईलैंड का दौरा किया था। थाईलैंड के हिन्दुस्तानी सफ़ीर अनील वाडवा ने वज़ीर-ए-आज़म के दौरे के बारे में तास्सुरात ज़ाहिर करते हुए कहा कि थाईलैंड उनके दौरे का मुंतज़िर है।

सहि फ्रीकी क़ौमी शाहराह हिन्दुस्तान के शुमाल मशरिक़ी इलाक़े को थाईलैंड से बराहे म्यानमार मरबूत करेगी। 2016 तक उसकी तकमील का इमकान है। इस से अशीया की मुंतक़ली, सरमायाकारी और ख़िदमात के शोबे में इन्क़िलाबी तबदीली पैदा होगी। अवाम से अवाम के रवाबित में इज़ाफ़ा होगा।

पैदावार की तलब में इज़ाफ़ा होगा जिस से तीनों ममालिक के लाखों अवाम की ज़िंदगीयों में तबदीली पैदा होगी। हिन्दुस्तान थाईलैंड आज़ाद तिजारत मुआहिदे का तवील अर्से से इंतेज़ार किया जा रहा है इस दौरे के मौक़े पर ये मुआहिदा होने का इमकान कम है। दोनों ममालिक जामि आज़ाद तिजारत मुआहिदे के क़वाइद-ओ-ज़वाबत को क़तईयत देने के मरहला में हैं ताकि उसे ज़्यादा बामानी और दोनों ममालिक केलिए ज़्यादा फ़ाइदाबख्श बनाया जा सके। वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह जापान से वतन वापसी के दौरान थाईलैंड में एक दिन के लिए तवक्कुफ़ करेंगे। वज़ीर-ए-आज़म थाईलैंड अंग लक शिनावात्रा क़ब्लअज़ीं दो मर्तबा हिन्दुस्तान का दौरा करचुकी हैं।

TOPPOPULARRECENT