Tuesday , August 14 2018

वज़ीर-ए-आज़म की सीनियर वुज़रा से मुलाक़ात

नई दिल्ली, २६ जनवरी (पी टी आई) वज़ारत-ए-दाख़िला और मंसूबा बंदी कमीशन के दरमियान म्यू आई डी प्रोजेक़्ट के तसलसुल पर इख़तेलाफ़ात के दौरान वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह ने आज सीनियर काबीनी वुज़रा से मुशावरत की ताकि मसाइल की यकसूई की जा सके।

नई दिल्ली, २६ जनवरी (पी टी आई) वज़ारत-ए-दाख़िला और मंसूबा बंदी कमीशन के दरमियान म्यू आई डी प्रोजेक़्ट के तसलसुल पर इख़तेलाफ़ात के दौरान वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह ने आज सीनियर काबीनी वुज़रा से मुशावरत की ताकि मसाइल की यकसूई की जा सके।

वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह जुमा के दिन एक का बीनी इजलास तलब कर रहे हैं ताकि म्यू आई डी ए आई पराजकट की तौसीअ के सिलसिला में क़तई फैसला किया जा सके जिस के तहत क़ौमी शनाख़ती कार्ड पूरी आबादी को जारी किए जा रहे हैं ।

नायब सदर नशीन मंसूबा बंदी कमीशन मोंटेक अहलुवालिया ने वज़ीर-ए-आज़म से मुलाक़ात के बाद कहा कि इन के ख़्याल में हम सब इत्तेफ़ाक़ राय पर पहुंच चुके हैं कि दोनों प्रोजेक्टस साथ साथ कैसे किसी मुश्किल के बगैर पेशरफ़्त कर सकते हैं।

काबीनी कमेटी बराए म्यू आई डी ए आई का इजलास मुल्तवी कर दिया गया और ये जुमा के दिन मुक़र्रर किया गया है । उन्हों ने उम्मीद ज़ाहिर की कि इन मसाइल की मुजव्वज़ा इजलास में यकसूई हो जाएगी। अहलुवालिया के इलावा आज के इजलास में मर्कज़ी वज़ीर फ़ै नानिस परनब मुकर्जी , वज़ीर दाख़िला पी चिदम़्बरम , म्यू आई डी ए आई के सदर नशीन नंदन नीलेकणी और मुशीर क़ौमी सलामती शैव शंकर मेनन ने शिरकत की। अहलुवालिया ने कहा कि हम इत्मीनान बख़श इख़तेताम की सिम्त पेशरफ़्त कर रहे हैं।

नकात-ए-नज़र के इख़तेलाफ़ात थे, हम ने मुख़्तलिफ़ मसाइल पर नज़र-ए-सानी की। उन्हों ने कहा कि वज़ारत-ए-दाख़िला के क़ौमी आबादी रजिस्टर प्रोजेक्ट बराए डीजीटल डाटाबेस क़ियाम म्यू आई डी आई के साथ जारी रह सकता है। उन्हों ने कहा कि इन के ख़्याल में दोनों प्रोजेक़्टस के जारी रखने पर इत्तेफ़ाक़ राय हो चुका है।और इसी राहें तलाश की जाएंगी जिन के ज़रीया दुहरा काम नाम किया जाए ।

TOPPOPULARRECENT