Sunday , September 23 2018

शमी- हसीन जहान विवाद में उलेमा की एंट्री, जानिए, क्या कहा?

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी और पत्नी हसीन जहां के मामले को शरीयत के दायरे में सुलझाने के लिए बरेलवी मसलक के उलेमा ने पहल की है। उलेमा का कहना है कि शौहर-बीवी के झगड़े को घर के बाहर नुमाइश ना कर के आपस में बैठकर ही सुलझा ने के लिए कदम बढ़ाएं।

बता दें कि भारतीय टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी इन दिनों विवादों में घिरे हैं। एक तरफ भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने उनका सेंट्रल कॉन्टेस्ट रोक दिया है, वहीं दूसरी ओर पत्नी हसीन जहां ने उनके खिलाफ कोलकाता पुलिस में आईपीसी की धाराओं में मामला दर्ज किया है।

उलेमा का कहना है कि शमी और हसीन जहां का झगड़ा घरेलू है। इसको दोनों ही परिवार आपस में बैठकर हल कर सकते हैं। मुफ्ती सैयद कफील अहमद हाशमी ने कहा कि शरीयत में हुकुम है जब ऐसे झगड़े हो तो उन्हें घर में बैठकर ही हल करना जायज है।

ऐसे झगड़ों की नुमाइश करने से दोनों की ही बदनामी होती है। मुफ्ती रिजवान नूरी का कहना है कि दोनों में से कौन सच है और कौन गलत बोल रहा है इसको परिवार के बड़े लोग ही आपस में बैठकर जान सकेंगे और समझा पाएंगे। इसलिए शमी और हसीन जहां का मामला जिस तरह से सामने आ रहा है वह ठीक नहीं है।

साभार- हिन्दुस्तान

TOPPOPULARRECENT