Tuesday , July 17 2018

शरद यादव और अली अनवर की राज्यसभा सदस्यता खतरे में, राज्यसभा सचिवालय ने जारी किया नोटिस

पटना : शरद यादव और अली अनवर को राज्यसभा सचिवालय ने नोटिस जारी कर पूछा है कि क्यों ना आपकी सदस्यता समाप्त कर दी जाए? इस नोटिस के बाद इन दोनों नेताओं पर राज्यसभा की सदस्यता खत्म होने की तलवार लटक गई है। जदयू को लेकर बिहार में असली-नकली और कब्जे की लड़ाई के बीच पार्टी के दो बागी नेताओं शरद यादव और अली अनवर को राज्यसभा सचिवालय की ओर से नोटिस भेजा गया है. इससे पूर्व शरद यादव को जदयू की ओर से एक पत्र जारी कर लालू की पटना के गांधी मैदान में आयोजित रैली में शामिल नहीं होने के लिए कहा गया था. इतना ही नहीं, नीतीश कुमार के करीबी और पार्टी के संसदीय दल के नेता आर सी पी सिंह और महासचिव संजय झा ने उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू को शरद यादव की सदस्यता को लेकर एक पत्र सौंपा था.

जहां नीतीश कुमार के विरोध में वे सीधा संवाद कार्यक्रम के जरिए लोगों से रू-ब-रू हो रहे हैंI वहीं, दूसरे चरण में भी शरद चार दिनों की बिहार यात्रा पर आ रहे हैं। इस दौरान शरद यादव लोगों से सीधा संवाद स्थापित कर महागठबंधन को ताकत देने की कोशिश करेंगे। जेडीयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव आगामी 25 सितंबर से चार दिनों की यात्रा पर बिहार आ रहे हैं। इस दौरान वे आरा, बक्सर, सासाराम और गया इलाके का दौरा करेंगे और लोगों से सीधा संवाद स्थापित करेंगे महागठबंधन टूटने के बाद शरद यादव और अली अनवर नीतीश कुमार से और पार्टी से नाराज चल रहे हैं. शरद यादव ने आयोग से मिलकर जदयू के चुनाव चिह्न पर अपना दावा भी पेश किया था.

जहां नीतीश कुमार के विरोध में वे सीधा संवाद कार्यक्रम के जरिए लोगों से रू-ब-रू हो रहे हैंI वहीं, दूसरे चरण में भी शरद चार दिनों की बिहार यात्रा पर आ रहे हैं। इस दौरान शरद यादव लोगों से सीधा संवाद स्थापित कर महागठबंधन को ताकत देने की कोशिश करेंगे। जेडीयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव आगामी 25 सितंबर से चार दिनों की यात्रा पर बिहार आ रहे हैं। इस दौरान वे आरा, बक्सर, सासाराम और गया इलाके का दौरा करेंगे और लोगों से सीधा संवाद स्थापित करेंगे

TOPPOPULARRECENT